रेप कर 8 साल की बच्ची को मार डाला:भोजपुर में 2 बच्चों के बाप ने मौसेरी बहन का रेप किया, फिर ब्लेड से गला काट खेत में फेंका

भोजपुर10 महीने पहले
  • गुरुवार दोपहर को ही बहला-फुसला कर ले गया, शुक्रवार सुबह मिली लाश

भोजपुर के बिहियां में एक दरिंदे ने 8 साल की बच्ची से रेप किया फिर अपना घिनौना अपराध छिपाने के लिए ब्लेड से उसका गला काट डाला। दुष्कर्मी बच्ची के दूर का रिश्तेदार ही है। रेप के बाद उसने बच्ची के शव को बगही गांव के खेत में ही फेंक दिया। शुक्रवार सुबह बच्ची की लाश मिलने के बाद ग्रामीणों ने उसे खूब पीटा फिर पुलिस के हवाले कर दिया। ग्रामीणों की पिटाई के दौरान ही उसने अपना अपराध कबूल कर लिया था।

घुमाने के बहाने ले गया था खेत

आरोपी मो. इरशाद गुरुवार की दोपहर से ही बच्ची को खेत घुमाने के बहाने ले गया था। इसके बाद वह घर नहीं आई, तो घरवाले ढूंढने लगे। इस बीच मो। इरशाद गांव में कई बार दिखा। घरवालों ने पूछताछ की तो वह बच्ची के तुरंत लौट आने की बात कहता रहा। जब रात भर में भी बच्ची नहीं लौटी तो घरवालों ने सुबह-सुबह इरशाद को पकड़ लिया। सख्ती से पूछताछ की। तब उसने गांव के लोगों से कहा कि उसने खेत में किसी के कराहने की आवाज सुनी है। इसके बाद गांव वाले खेत पर पहुंचे तो वहां का नजारा कुछ और ही था। नाबालिग बच्ची के नीचे का कपड़ा फटा हुआ था और प्राइवेट पार्ट पर खून के धब्बे थे। उसका गला कटा हुआ था। बगल में कई ब्लेड पड़े थे। इसके बाद ग्रामीण उग्र हो गए और इरशाद की जमकर पिटाई की। तब जाकर उसने बच्ची के रेप और फिर हत्या की बात कबूली।

दुष्कर्मी इरशाद।
दुष्कर्मी इरशाद।

बेहोश बच्ची को छोड़ गांव से ही ब्लेड ले गया था

इरशाद ने बताया कि दुष्कर्म के दर्द से कराहती बच्ची बेहोश हो गई थी। उसे वह वहीं छोड़ गया था। बाद में उसे लगा कि बच्ची सबको बता देगी। वह उसे खेत में ही छोड़ वापस गांव की ओर गया और ब्लेड खरीदकर ले आया। गला काटकर हत्या करने के बाद वापस फिर गांव में अपने घर चला गया। परिवार वालों को यह जानकारी थी कि इरशाद बच्ची को घुमाने ले गया था। इसलिए उससे पूछते रहे और वह बात टालता रहा।

दो बच्चों का बाप है रेप और हत्या का आरोपी

SP हरकिशोर राय ने बताया कि बिहियां के बगही गांव में रेप-हत्या के आरोपी मो. इरशाद को गिरफ्तार कर लिया गया है। वह 2 बच्चों का बाप है। वह बगही गांव में ही अपने रिश्तेदार के घर में रहता है। बच्ची भी अपने परिवार सहित इसी गांव में अपनी नानी के घर रहती है। दोनों का घर अगल-बगल में ही है। मृतका दो बहन और एक भाई में सबसे छोटी थी। इस मामले में सिविल सर्जन सह प्रभारी अधीक्षक के द्वारा चार डॉक्टरों का टीम गठित कर शव का पोस्टमार्टम कराया गया है। रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का सही कारण स्पष्ट हो पाएगा।

खबरें और भी हैं...