पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

विरोध:बैंकों की हड़ताल से 50 करोड़ का कारोबार प्रभावित

बिहारशरीफ2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
केंद्र सरकार की श्रम-विरोधी नीतियों के खिलाफ प्रदर्शन करते पीएनबी के कर्मी। - Dainik Bhaskar
केंद्र सरकार की श्रम-विरोधी नीतियों के खिलाफ प्रदर्शन करते पीएनबी के कर्मी।
  • 10 केंद्रीय ट्रेड यूनियनों की ओर से बुलाई गई देशव्यापी हड़ताल में बैंक कर्मचारियों के शामिल होने से बैंकिंग सेवा पूरी तरह प्रभावित रही
  • जमा-निकासी, आरटीजीएस, एनईएफटी और ड्राफ्ट के लिए भी परेशान रहे लोग, डाकघरों का भी काम हुआ प्रभावित

ऑल इंडिया बैंक इम्पलाईज एसोसिएशन के आवाह्न पर केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ बैंक कर्मियों ने हड़ताल की। भारतीय मजदूर संघ को छोड़कर दस केंद्रीय ट्रेड यूनियनों की ओर से बुलाई गई देशव्यापी हड़ताल में बैंक कर्मचारियों के शामिल होने से गुरुवार को बैंकिंग सेवा पूरी तरह प्रभावित रही। हड़ताल की वजह से सार्वजनिक बैंकों की शाखाओं में नकदी जमा करने और निकालने समेत सभी गतिविधियां प्रभावित रहीं। बैंक शाखाओं में ताले लटके रहे और शाखा के बाहर धरना-प्रदर्शन चलता रहा। हड़ताल की वजह से करीब 50 करोड़ रुपये से ज्यादा का बैंकिग कारोबार प्रभावित रहा है। बैंक कर्मचारियों के संगठन एआईबीईए, एआईबीओए, बीईएफआई, आईएनबीईएफ, आईएनबीओसी और बैंक कर्मचारी महासंघ ने हड़ताल का समर्थन किया था। चेक क्लियरेंस, आरटीजीएस, एनईएफ़टी और ड्राफ्ट की समस्या से कारोबारी सहित आम लोग भी परेशान रहे। हड़ताली बैंक कर्मियों द्वारा स्टेट बैंक और निजी बैंकों को भी बंद कराया गया। एलडीएम रत्नाकर झा ने बताया कि हड़ताल की वजह से जिले के राष्ट्रीयकृत बैंकों के 100 से अधिक ब्रांच बंद रहा। उन्होने बताया कि बैंक कर्मचारियों की हड़ताल के कारण लोगों को किसी प्रकार की परेशानी ना हो इसके लिए सभी एटीएम में 1 दिन पूर्व कैश डलवा दिया गया था।

सीएसपी ने दी छोटे ग्राहकों को राहत : बैंकों में हड़ताल से ग्रामीण ग्राहक ज्यादा परेशान रहे। हालांकि सीएसपी खुला रहा। विभिन्न बैंकों के सीएसपी खुले रहने से लोगों को कुछ राहत मिली। 10 हजार तक लेन-देन होने से छोटे ग्राहकों का काम बाधित नहीं हुआ। मगर 12 बजते-बजते सीएसपी का भी कैश खत्म हो गया और शटर गिरा दिया गया।

संरक्षण की मांग : इन मुद्दों पर था विरोध

बैंक कर्मी बैंको का विलय, निजीकरण, शुल्क वृद्धि और वेतन सहित अन्य मुद्दों को लेकर सरकार की नीतियों का विरोध कर रहे थे। ऑल इंडिया रिजर्व बैंक एंप्लॉयज एसोसिएशन (एआईआरबीईए) और ऑल इंडिया रिजर्व बैंक वर्कर्स फेडरेशन (एआईआरबीडब्ल्यूएफ) और कुछ बीमा यूनियनों ने भी हड़ताल का समर्थन किया था। हड़ताली कर्मियों ने बताया कि लोकसभा के सत्र में तीन नए श्रम कानूनों को पारित किया गया है और कारोबार सुगमता के नाम पर 27 मौजूदा कानूनों को समाप्त कर दिया गया है। ये कानून शुद्ध रूप से कॉरपोरेट जगत के हित में हैं। इस प्रक्रिया में 75 प्रतिशत श्रमिकों को श्रम कानूनों के दायरे से बाहर कर दिया गया है। नए कानूनों में इन श्रमिकों को किसी तरह का संरक्षण नहीं मिलेगा।

ग्रामीण बैंक की 104 शाखाओं में लटका रहा ताला
जिले के दक्षिण बिहार ग्रामीण बैंक की 104 शाखाओं के साथ-साथ क्षेत्रीय कार्यालय में भी ताला लटका रहा। क्षेत्रीय कार्यालय के समक्ष बैंक कर्मियों ने प्रदर्शन और नारेबाजी भी की। ऑफिसर फेडरेशन के क्षेत्रीय सचिव संजीव कुमार,वरीय अध्यक्ष ध्रुव प्रह्लाद नागवंशी,कर्मचारी संगठन के अध्यक्ष गोपाल कुमार व अन्य ने नारेबाजी भी की।

हड़ताल : कारोबारियों को हुई काफी परेशानी
बैंकों के एकदिवसीय हड़ताल पर रहने के कारण सबसे अधिक परेशानी कारोबारियों को हुई है। व्यवसायी संजीव कुमार, राजीव कुमार, सत्येंद्र आदि ने बताया कि बैंकों के बंद रहने के कारण संबंधित एजेंसी अथवा थोक विक्रेताओं को दूसरे जगह पर पैसे भेजने के लिए आरटीजीएस नहीं हो पाने के कारण काफी परेशानी का सामना करना पड़ा।

बैंक हड़ताल और एटीएम बंद रहने से हुई ज्यादा परेशानी
शादी समारोह में आए लोग अपने साथ में कैश काफी कम लाये थे। बैंक के साथ-साथ एटीएम बंद रहने के कारण बिहारशरीफ आये और यहां भी कैश नहीं निकाल सके। जिससे वह काफी परेशान दिखे।

केंद्र सरकार की नीतियों को श्रम-विरोधी बताकर प्रदर्शन करते महागठबंधन के कार्यकर्ता
केंद्र सरकार की नीतियों को श्रम-विरोधी बताकर प्रदर्शन करते महागठबंधन के कार्यकर्ता

दुकानों में भी दिखा असर
रेडिमेड दुकानदार गुड्डू ने बताया कि बैंक हड़ताल का असर रेडिमेड दुकान पर भी पड़ा है। अभी त्योहार का समय था और लोग जमकर खरीददारी करते। वहीं सोहसराय के मिनी सूरत में भी सन्नाटा पसरा दिखा। साड़ी कारोबारी ने बताया कि बैंक बंद रहने से आरटीजीएस, एनईएफ़टी और ड्राफ्ट की समस्या से काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा है। दुकानदार न तो माल का ऑर्डर ही कर पाए और न ही उनका माल खरीदने के लिए ग्राहक ही आये।
एटीएम में करेंसी की किल्लत
बैंककर्मियों की हड़ताल की वजह से एटीएम तक करेंसी नहीं पहुंच सकी। लिहाजा एटीएम में करेंसी लोड नहीं हुआ। इस वजह से जिले के करीब 155 एटीएम में ड्राई रहा। नगदी की उम्मीद में शहरवासी एक एटीएम से दूसरे एटीएम तक चक्कर लगाते रहे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां आपको कई सुअवसर प्रदान करने वाली हैं। इनका भरपूर सम्मान करें। कहीं पूंजी निवेश करने के लिए सोच रहे हैं तो तुरंत कर दीजिए। भाइयों अथवा निकट संबंधी के साथ कुछ लाभकारी योजना...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser