पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोविड-19:दस दिन में हरा सकते हैं कोरोना वायरस को

बिहारशरीफ25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना से बचाव का सबसे बेहतर साधन वैक्सीन और जरूरी सावधानी बरतने के प्रति अभी भी ग्रामीण क्षेत्रों में जागरुकता का अभाव है। लोगों को सावधानी बरतने व टीकाकरण के प्रति जागरूक करने के लिए नव बिहार समाज कल्याण प्रतिष्ठान द्वारा महिला विकास मोर्चा के माध्यम से गिरियक प्रखंड के ईशुआ गांव में जागरूकता अभियान चलाया गया। इस मौके पर संस्थान द्वारा लोगों के बीच मास्क का भी वितरण भी किया गया। इस अवसर पर पूर्व प्रमुख सुनील कुमार ने कहा कि अगर टीकाकरण व विभागीय गाइडलाइन का पालन करते हैं तो कुछ दिनो में ही कोरोना से जंग जीता जा सकता है।

संक्रमण बढ़ने और मौत की खबर सुनकर भले ही लोग चिंता जता रहे हैं लेकिन सावधानी बरतने में अनदेखी कर रहे हैं। जिसका परिणाम है कि कोरोना दिन व दिन हावी होता जा रहा और अपना परिणाम भी दिखा रहा है। संक्रमण भले ही कम हो गया है लेकिन संभावनाएं अभी भी है। ऐसे में सावधानी बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि आज सरकार को टीकाकरण के लिए घर-घर तक जाना पड़ रहा है।

फिर भी कोई टीका लेना नहीं चाह रहे हैं। लेकिन जब इसकी आवश्यकता बढ़ जाएगी तो विरोध करने वाले ही सरकार को कोसेंगे। कोरोना से बचना है और परिवार व समाज को सुरक्षित रखना है तो टीका जरूर लगवाएं। इस मौके पर प्यारेपुर पंचायत की मुखिया अंजू देवी, बेबी कुमारी, उप मुखिया संजय कुमार आदि उपस्थित थे।

महिलाएं आगे आएं
महिला विकास मोर्चा की अध्यक्ष उषा कुमारी ने कहा कि जिस प्रकार महिलाओं को सरकार आरक्षण दे रही है। और उसका लाभ लेने के लिए ये आगे भी आ रही हैं। इसी प्रकार कोरोना से जंग जीतने के लिए भी महिलाओं को आगे आना होगा। काफी रिसर्च के बाद वैक्सीन को आम लोगों के बीच लाया जाता है। इसलिए सरकार द्वारा गांव-गांव तक टीकाकरण के लिए जो सुविधा पहुंचा रही है उसका लाभ लें। और अपने परिवार व समाज को सुरक्षित करें। किसी अफवाह में नहीं अाए।

खबरें और भी हैं...