तैयारी:सघन मिशन इंद्रधनुष कार्यक्रम को लेकर 10 दिनों तक चलेगा डोर टू डोर सर्वे अभियान

बिहारशरीफ3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 2 साल से नीचे के बच्चे व गर्भवती महिलाओं का किया जाएगा सर्वे

नियमित टीकाकरण से वंचित बच्चे व गर्भवती महिलाओं के लिए आगामी 7 फरवरी से सघन मिशन इंद्रधनुष 4.0 कार्यक्रम आयोजित किया जाना है। इसके लिए सबसे पहले बच्चों व गर्भवती महिलाओं की सूची तैयार कर पोर्टल पर अपलोड किया जाना है। ताकि विभाग को माइक्रोप्लान तैयार करने में सुविधा हो। शुक्रवार को सीएस ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी प्रखंड स्तरीय अधिकारियों के साथ बैठक की । सभी को विभागीय गाइडलाइन के बारे में जानकारी दी गई। सीएस डॉ. सुनील कुमार ने बताया कि पिछले वर्ष कोरोना के कारण नियमित टीकाकरण काफी प्रभावित हुआ था। इस कारण कुछ बच्चे व गर्भवती महिलाएं नियमित टीकाकरण से वंचित रह गई थी। इसी को पूरा करने के लिए इस बार तीन चरण में सघन मिशन इंन्द्रधनुष 4.0 कार्यक्रम आयोजित किया जाना है। इसके लिए सभी प्रखंडों में लाभार्थियों की सूची तैयार करने का निर्देश दिया गया है। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में एसीएमओ डॉ. विजय कुमार सिंह, गैर संचारी रोग पदाधिकारी डॉ. राम मोहन सहाय सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

यह महत्वपूर्ण अभियान
सीएस ने बताया कि इस अभियान में 2 साल से कम उम्र के बच्चे और वैसी गर्भवती महिलाएं जो वैक्सीन के किसी एक भी डोज से वंचित हैं तो उन्हें टीका दिया जाना है। 10 दिनों तक डोर टू डोर सर्वे होगा। मिजिल्स और डिप्थिरिया के मरीज जहां मिले है वहां भी होगा।

90 प्रतिशत से उपर लक्ष्य
उन्होंने बताया कि नियमित टीकाकरण में 90 प्रतिशत तक लक्ष्य पूरा किया जाना है। कुछ प्रखंड ऐसे है जहां का आरआई औसत काफी कम है। इसलिए सर्वे के दौरान उन प्रखंडों व गांवों को विशेष रूप से सूची तैयार करने का निर्देश दिया गया है।

खबरें और भी हैं...