पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

मेघदूत योजना शुरू:सप्ताह में दो दिन किसानों को मिलेगा मौसम का पूर्वानुमान

बिहारशरीफएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मौसम की अनिश्चितता, असमय बारिश और ओलावृष्टि सेे किसानों को बचाने के लिए राज्य सरकार की पहल

मौसम में अचानक बदलाव के कारण किसानों को सबसे ज्यादा समस्या होती है। ऐसी परिस्थिति में किसान फसल तो लगा देते हैं लेकिन उसे मौसम की मार से बचा नहीं पाते हैं। इस तरह की समस्या से निपटने एवं सीधा किसानों तक मौसम की जानकारी उपलब्ध कराने के लिए सरकार द्वारा मेघदूत परियोजना के तहत क्रॉप व वेदर एडवाइजरी तैयार किया गया है। सीधे किसानों तक मौसम की जानकारी उपलब्ध कराने के लिए सरकार द्वारा नालन्दा सहित तीन जिले में मेघदूत परियोजना की शुरुआत की गई है।अन्य दो जिले सुपौल और पूर्वी चंपारण है। संबंधित जिले से वर्षापात, मौसम का तापमान, सापेक्षित आर्द्रता व वायु वेग की रिपोर्ट उपलब्ध करा लिया गया है। ताकि इन बिंदुओं पर किसानों को मेघदूत एप के माध्यम से मौसम की सही जानकारी उपलब्ध कराई जा सके। जिला परामर्शी कुमार किशोर नंदा ने बताया कि मौसम की अनिश्चितता, असमय बारिश और ओलावृष्टि की मार से बिहार के किसानों को बचाने के लिए राज्य सरकार ने मेघदूत योजना की शुरुआत की है। इससे हमारे किसानों को तीन दिनों पहले ही मौसम की सटीक जानकारी मिल जाएगी। उन्होंने बताया कि वर्षापात का रिपोर्ट तैयार कर लिया गया है। शेष रिपोर्ट के लिए विभाग से दिशा निर्देश मांगा जा रहा है।

खुशखबरी : तीन योजनाओं की हुई शुरुआत
जिला परामर्शी में बताया कि 16 सितंबर को कृषि मंत्री डॉ. प्रेम कुमार द्वारा मेघदूत परियोजना के तहत तीन योजना टेलीमेट्रिक वेदर स्टेशन, मौसम आधारित कृषि का परामर्श और जल संरक्षण की शुरुआत की गई है। उन्होंने बताया कि इन तीनों योजनाओं के तहत वायुमंडल की आद्रता, तापमान, मौसम का पूर्वानुमान, वायुमंडलीय दबाव, हवा की गति के अधार पर किसानों को मैसेज दिया जाएगा।

मौसम पर ही निर्भर करता है उत्पादन
जिला परामर्शी ने बताया कि वर्षापात, तापक्रम, वायु वेग, आर्द्रता व अन्य डाटा से ही मौसम की सही जानकारी मिलती है। मौसम पर ही फसल का उत्पादन निर्भर करता है। जब तक मौसम अनुकूल नहीं होगा तब तक उत्पादन तो दूर की बात फसल बचाना भी मुश्किल हो जाता है।

एप से मिलेगी जानकारी
केवीके हरनौत के कृषि वैज्ञानिक डॉ. उमेश नारायण उमेश ने बताया कि जानकारी के लिए टीवी या रेडियो पर निर्भर नहीं होना पड़ेगा। किसान अपने क्षेत्र का मौसम मेघदूत एप के माध्यम से भी जान सकेंगें। यह एप मौसम के तापमान, वर्षा, नमी और वायु की तीव्रता आदि के बारे में बड़ी सरल में भाषा में जानकारी देगा।

डीबीटी से जुड़े किसानों को जाएगा मैसेज
डीएओ ने बताया कि इस योजना के तहत डीबीटी से जुड़े सभी किसानो के मोबाइल पर मैसेज दिया जाएगा। इसके लिए किसानों के नम्बर को ग्रुप से जोड़ा जा रहा है। अब तक 2 लाख से अधिक किसानों का रजिस्ट्रेशन हो चुका है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर जाने का प्रोग्राम बन सकता है। साथ ही आराम तथा आमोद-प्रमोद संबंधी कार्यक्रमों में भी समय व्यतीत होगा। संतान को कोई उपलब्धि मिलने से घर में खुशी भरा माहौल ...

और पढ़ें