पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

निर्देश:रोज के औसत टीकाकरण में तेजी लाने का निर्देश

बिहारशरीफ16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना टीकाकरण को लेकर वीडियो कांफ्रेंसिंग से डीएम ने दिए कई अहम निर्देश

डीएम योगेन्द्र सिंह ने रविवार को जिले के सभी प्रखंडों में कोरोना टीकाकरण की समीक्षा को लेकर वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक की। सभी प्रखंडों से बीडीओ, सीडीपीओ, ओबीएचएम, एमओआईसी तथा अनुमंडल से अनुमंडल पदाधिकारी के अलावा डीपीएम और सिविल सर्जन भी वजुड़े। डीएम ने बारी-बारी से सभी प्रखंडों से कोरोना के प्रथम एवं द्वितीय डोज की स्थिति के बारे में जानकारी ली तथा रोज के औसत टीकाकरण में तेजी लाने का निर्देश दिया। उन्होंने कई बीडीओ से उनके विगत कई दिनों से टीकाकरण में खराब प्रदर्शन पर भी कई निर्देश दिए। पीपीटी के माध्यम से की जा रही समीक्षा में प्रत्येक प्रखंडों में विगत कई दिनों से चल रही टीकाकरण की स्थिति में कई प्रखंडों के प्रदर्शन में सुधार आने तथा कई प्रखंडों के प्रदर्शन में गिरावट आने के बारे में भी पूछा गया। बिंद जो पहले पहले नंबर पर था अब 5वें नंबर पर आ गया है। इसी प्रकार गिरियक जो पहले दूसरे नंबर पर था अब तीसरे नंबर पर आ गया है। हिलसा प्रखंड जो पहले पिछड़ रहा था, पिछले 4 सितम्बर से लगातार अच्छा प्रदर्शन करते नजर आया। जिसका डीएम ने प्रशंसा की।

कोविन पोर्टल पर इंट्री में तेजी लाने का निर्देश
डीएम ने कोविन पोर्टल पर इंट्री में भी तेजी लाने के निर्देश दिया। उन्होंने सभी बीडीओ से केरल, कर्नाटक तथा अन्य जगहों से जहां कोरोना संक्रमण के मामले फिर बढ़ रहे हैं से आ रहे लोगों पर नजर रखने के निर्देश दिए। बिहारशरीफ ग्रामीण के सभी प्रखंडों में सबसे निचले पायदान पर रहने के कारण डीएम ने रोष व्यक्त किया। इसी प्रकार नीचे से दूसरे स्थान पर रहे सिलाव बीडीओ से कारण पूछा गया। बीडीओ के जवाब से डीएम संतुष्ट नहीं हो पाये। डीएम ने कहा कि अब लोगों द्वारा टीका नहीं लेने की शिकायतें नहीं मिल रही है। फिर टीकाकरण के लिए उपलब्ध कराए जा रहे रोज के लक्षित डोज बचे कैसे रह जा रहे हैं? सभी प्रखंडों में आज उपलब्ध हुए डोज का शत-प्रतिशत डोज लगवाने के निर्देश डीएम द्वारा दिया गया। इसके लिए डीएम ने कई टिप्स भी बताए। उन्होंने कहा कि कोविड संबंधी काम में कोताही नहीं करें।

सीएस को ठीक से मॉनिटरिंग करने का निर्देश : जितना डोज का लक्ष्य जिस प्रखंड को प्रतिदिन मिलता है उसे उसी दिन पूरा करवा लें। इससे अन्य काम भी अधूरे नहीं रहेंगे। डीएम ने डीपीएम, डीआईओ तथा सिविल सर्जन को इसे ठीक से मॉनिटर करते रहने का निर्देश दिया तथा कोरोना जांच तथा टीकाकरण में प्रगति लाते हुए आगामी दिनांक 17 सितम्बर को होने जा रहे महाभियान में नालंदा को प्रदेश में अव्वल स्थान पाने के मुहिम में अपना शत-प्रतिशत योगदान देने का निर्देश दिया। डीएम ने यह भी कहा कि रविवार के दिन वीडियो कांफ्रेंसिंग करने की जरूरत इसलिए पड़ गई क्योंकि कुछ प्रखंडों से अपेक्षित उपलब्धि टीकाकरण में पिछले कई दिनों से नहीं मिल रही थी।

खबरें और भी हैं...