पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बिहारशरीफ:अनुमंडलीय पशु चिकित्सालय समेत 6 प्रखंडों में आइसलाइंड रेफ्रिजेरेटर

बिहारशरीफ14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोल्ड चेन को मेंटेन करते हुए पशुओं को दिया जाएगा एफएमडी का टीका

इस बार पूरी तरह काेल्ड चेन को मेंटेन करते हुए मुहपका एवं खुरहा रोग से बचाव के लिए एफएमडी टीकाकरण अभियान चलाया जाएगा। जिला से लेकर गांव तक कोल्ड चेन को मेंटेन करने के लिए अनुमंडलीय पशु चिकित्सालय समेत तीन प्रखंडों में आईस लाइण्ड रेफ्रिजेरटर उपलब्ध कराया गया है। ताकि वैक्सीन को सुरक्षित रखने में परेशानी न हो।

जिला पशुपालन पदाधिकारी डॉ. अशोक कुमार विद्यार्थी ने बताया कि पहले जिला मुख्यालय के अलावे मात्र चार प्रखंडाें सरमेरा, हरनौत, हिलसा और नुरसराय में फ्रीज उपलब्ध था। जिसकी क्षमता काफी कम थी, इस कारण कोल्ड चेन को मेंटेन करने के लिए काफी परेशानी होती थी। सुदुवर्ती ईलाकों में टीकाकरण के दौरान कभी-कभी वैक्सीन खराब भी हो जाता था। लेकिन आईस लाइण्ड रेफ्रिजेरटर उपलब्ध होने के बाद सही टैम्प्रेचर पर वैक्सीन को रखा जाएगा और सहुलित भी होगी।
6 पशु चिकित्सालय में उपलब्ध कराया गया आईएलआर
जिले के अनुमंडलीय पशु चिकित्सालय समेत 6 हॉस्पीटल में आईस लाइण्ड रेफ्रिजेरटर उपलब्ध कराया गया है। ताकि आस-पास के प्रखंडों में उपलब्ध कराए गए वैक्सीन को भी मेंटेन किया जा सके। टीवीओ मोबाईल डॉ. सुनील कुमार ने बताया कि सुदुवर्ती इलाकों में भी सुविधा उपलब्ध हो इसके लिए बिहारशरीफ, हिलसा, राजगीर, हरनौत, सरमेरा और इसलामपुर में आईएलआर उपलब्ध कराया गया है। ये पशु चिकित्सालय अपने प्रखंड के अलावे आसपास के प्रखंडों के भी वैक्सीन को सुरक्षित रखेंगे।

लाईन कटने के बाद 24 घंटे तक होगा सुरक्षित : डीएएचओ ने बताया कि आईस लाइण्ड रेफ्रिजेरटर आने के बाद वैक्सीन का नुकसान नहीं होगा। इसमें लाईन कटने के बाद 24 घंटे तक 2-8 डिग्री टैम्प्रेचर बना रहेगा। उन्होंने बताया कि प्रति दिन एक प्रखंड में अधिकतम 2 हजार पशुओं को टीकाकरण किया जाता है। और आईएलआर में करीब 1 हजार वैक्सीन रखने की क्षमता है। इस कारण सभी पशु चिकित्सा पदाधिकारी को भी अपने-अपने क्षेत्र में उपलब्ध कराए गए वैक्सीन को नजदीकी पशु चिकित्सालय में वैक्सीन रखने का निर्देश दिया गया है।
डेमो के माध्यम से दिया गया प्रशिक्षण: डीएएचओ ने बताया कि चिन्हीत किए गए सभी पशु चिकित्सालय में आईएलआर उपलब्ध करा दिया गया है। साथ ही इसमें तापमान को मेंटेंन रखते हुए वैक्सीन को कैसे सुरक्षित रखा जा सकता है इसका डेमो के माध्यम से प्रशिक्षण भी दे दिया गया है।
नवम्बर से शुरू होगा अभियान
पशुओं को खुरहा व मुंहपका रोग से बचाव के लिए नवम्बर माह से एफएमडी टीकाकरण अभियान चलाया जाएगा। डीएएचओ ने बताया कि यह अभियान जुलाई माह में ही चलाया जाना था लेकिन कोरोना के कारण नहीं हाे पाया है। अब सभी तैयारी पूरी कर ली गई है। सभी प्रखंडों में दवा उपलब्ध कराया जा रहा है, ताकि अगले माह से टीकाकरण अभियान शुरू किया जा सके।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- किसी अनुभवी तथा धार्मिक प्रवृत्ति के व्यक्ति से मुलाकात आपकी विचारधारा में भी सकारात्मक परिवर्तन लाएगी। तथा जीवन से जुड़े प्रत्येक कार्य को करने का बेहतरीन नजरिया प्राप्त होगा। आर्थिक स्थिति म...

और पढ़ें