कार्यक्रम:विधिक जागरुकता शिविर लगा

बिहारशरीफ24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

आजादी के अमृत महोत्सव पर मघड़ा के शांति कुटीर में विशेष विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। कार्यक्रम जिला विधिक सेवा प्राधिकार के अध्यक्ष सह जिला एवं सत्र न्यायाधीश डा. रमेश चंद्र त्रिवेदी के आदेशानुसार तथा अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश सह विधिक सेवा प्राधिकार के सचिव मो. मंजूर आलम के निर्देशन में आयोजित की गयी। कार्यक्रम पैनल अधिवक्ता मंजुला कुमारी तथा पारा विधिक स्वयंसेवक कौशल कुमार द्वारा नालसा योजना 2016 विषय पर आयोजित की गई। शिविर में पैनल अधिवक्ता ने बताया कि वरिष्ठ नागरिकों के पास ज्ञान और अनुभवों का भंडार होता है। यह अपने आपमें एक सामाजिक वर्ग हैं। राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक नीति 2011 में किए गए उल्लेख के अनुसार जनांकिकीय प्रोफाइल यह दर्शाता है कि 2000 से 2050 तक भारत की समग्र जनसंख्या में 55 प्रतिशत की वृद्धि हो जाएगी। विश्व के बुजुर्गों की जनसंख्या का 8वां हिस्सा भारत में रहता है। वस्तुतः वरिष्ठ नागरिकों की संख्या 1951 में लगभग 2 करोड़ थी जो बढ़कर 2001 में 7.2 करोड़ तथा 2011 में 10.38 करोड़ हो गई। इस प्रकार जनसंख्या के लगभग 8 प्रतिशत लोग 60 वर्ष से अधिक के हैं। कार्यक्रम में दीपक कुमार, डा. वेद प्रकाश शर्मा, नरेश प्रसाद, प्रेमचंद पासवान, कुंदन कुमार, सुनील कुमार पांडे, राकेश कुमार सिंह, अनिल सिंह, नरेश पंडित, चंद्रसेन प्रसाद सिंह, अशोक कुमार सिंह, जयंत शर्मा, अनंत शर्मा, नरेश सिंह, जीरा देवी, राज किशोर सिंह आदि शामिल थे।

खबरें और भी हैं...