पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

क्वालिटी एजुकेशन:एनईसीआरटी शिक्षकों का टेस्ट लेगी, 60 प्रतिशत अंक लाना अनिवार्य, हर 15 दिन में नया मॉड्यूल

बिहारशरीफ16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • दीक्षा कार्यक्रम को ले राज्यस्तरीय उन्मुखीकरण कार्यक्रम में शामिल हुए पदाधिकारी व मास्टर ट्रेनर
  • शुरू होगा ऑनलाइन निष्ठा प्रशिक्षण, पोर्टल पर कराएं रजिस्ट्रेशन, आज से शुरू होगा प्रशिक्षण

दीक्षा कार्यक्रम को लेकर ऑनलाइन उन्मुखीकरण कार्यक्रम में पदाधिकारी और मास्टर ट्रेनर शामिल हुए। इन्हें बताया गया कि शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार के लिए कई उपायों को अपनाया गया है। लगातार क्षमताओं का निर्माण करते हुए संस्थानों में शैक्षणिक प्रशिक्षण को बढ़ावा दिया है। शिक्षकों एवं विद्यालयों की बेस्ट प्रेक्टिस को दीक्षा पोर्टल पर राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद ने उचित मंच देने का काम किया है। शिक्षक इस पोर्टल के माध्यम से अपनी बेस्ट प्रैक्टिस को शेयर कर सकेंगे।

बेस्ट प्रैक्टिस का अर्थ ऐसे नवाचार या नवाचारी से है जिसका प्रयोग विद्यालय के किसी ज्वलंत प्रकरण, चुनौती या समस्या के समाधान में सहायक सिद्ध हुआ है। यह नवाचार व्यक्तिगत प्रयासों या टीम वर्क का परिणाम हो सकता है, जिसके द्वारा विद्यालय में एक सकारात्मक शिक्षण अधिगम वातावरण का निर्माण एवं विद्यालय में शैक्षिक गुणवत्ता में वृद्धि की गई है।

ये प्रैक्टिस नवाचारी, उपयोगी व अन्य विद्यालयों के द्वारा अपनायी जा सकने लायक होनी चाहिए। डीपीओ एमडीएम सह प्रभारी प्राचार्य हेमचन्द्र ने बताया कि विभाग द्वारा शिक्षकों के कौशल विकास एवं छात्र-छात्राओं के सीखने के लिए गैर परम्परागत प्रणाली को अपनाते हुए डिजिटल लर्निंग प्लेटफार्म से जोड़ने का काम शुरू किया गया है। दीक्षा ऐप के माध्यम से ऑनलाइन प्रशिक्षण प्रणाली अपनाए जाने के बाद ऑनलाइन मूल्यांकन भी इसी ऐप पर किया जायेगा। सफल शिक्षकों को सिस्टम जेनरेटड प्रमाण पत्र भी मिलेगा।
आज से शुरू होगा प्रशिक्षण: डीईओ मनोज कुमार ने बताया कि निष्ठा का प्रशिक्षण 16 अक्टूबर से शुरू होगा। प्रशिक्षण के दौरान मास्टर ट्रेनर शिक्षक को बताएंगे कि किस तरह निष्ठा मॉडल के तहत बच्चों को पढ़ाया जाए ताकि उनका और बौद्धिक विकास हो सके। इसमें बच्चों के बीच खेल, क्विज प्रतियोगिता, प्रेरक बातचीत के आधार पर गुणवत्तापूर्ण शिक्षण कार्य करना है।
मिलेगी गुणवत्तापूर्ण शिक्षा: मास्टर ट्रेनर डॉ. अभिनव कुमार और प्रशांत प्रियदर्शी ने बताया कि इस तरह के प्रशिक्षण से न सिर्फ बच्चों की पढ़ाई में बदलाव आएगा बल्कि उन्हें गुणवत्तापूर्ण शिक्षा भी मिलेगी। शिक्षकों के पढ़ाने के तरीकों पर अधिक ध्यान देने की जरूरत है। निष्ठा एप के जरिए शिक्षकों के ज्ञान की परख भी होगी।

कक्षा 1 से 8 तक के लिए 3 से 4 घंटे की होगी ट्रेनिंग
एनईसीआरटी प्रत्येक शिक्षक का एक टेस्ट लेगी। जिसमें 60 प्रतिशत अंक लाना अनिवार्य होगा। प्रशिक्षण कक्षा 1 से 8 तक के सभी शिक्षकों एवं अधिकारियों के लिए हैं। प्रशिक्षण अक्टूबर से होकर जनवरी तक चलेगा। प्रशिक्षण में कुल 18 मॉड्यूल हैं, जो कि शैक्षिक एवं सह शैक्षिक तत्वों पर आधारित होंगे। हर 15 दिन में नया मॉड्यूल जारी हो जाएगा। प्रशिक्षण समयावधि में पूर्ण करना है । प्रशिक्षण 3 से 4 घण्टे का होगा।प्रशिक्षण में आडियो, वीडियो, पॉडकास्ट, पीडीएफ अलग -अलग कंटेंट होंगे।

8014 में से 3163 शिक्षकों ने कराया रजिस्ट्रेशन
लॉकडाउन में स्कूल नहीं खुले तो ऑनलाइन पढ़ाई शुरू कर दी गई है। छात्रों के साथ-साथ शिक्षकों के लिए भी यह नया अनुभव है। शिक्षकों को कभी इस तरह से पढ़ाने का प्रशिक्षण भी नहीं दिया गया था। कुछ अभिभावक पढ़ाई से संतुष्ट होते नजर नहीं आ रहे थे। इसके बाद दीक्षा एप के माध्यम से ऑनलाइन प्रशिक्षण शुरू किया गया।

शिक्षकों ने प्रशिक्षण के लिए दीक्षा पर अपना पंजीकरण करना शुरू कर दिया है। अभी तक 8014 में से 3163 शिक्षकों ने ही दीक्षा एप पर रजिस्ट्रेशन कराया है। डीईओ ने बताया कि जिले के सभी शिक्षकों को दीक्षा पोर्टल एप पर रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य है। उन्होने बताया कि अभी भी 4851 शिक्षकों ने रजिस्ट्रेशन नहीं कराया है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- किसी अनुभवी तथा धार्मिक प्रवृत्ति के व्यक्ति से मुलाकात आपकी विचारधारा में भी सकारात्मक परिवर्तन लाएगी। तथा जीवन से जुड़े प्रत्येक कार्य को करने का बेहतरीन नजरिया प्राप्त होगा। आर्थिक स्थिति म...

और पढ़ें