नियमों में बदलाव / रेडजोन से आने वाले ही रखे जाएंगे क्वारेंटाइन सेंटर में, औरेंज व ग्रीन जोन वालों के लिए होम क्वारेंटाइन

Only those coming from Redzone will be kept in Quarantine Center, Home Quarantine for Orange and Green Zone
X
Only those coming from Redzone will be kept in Quarantine Center, Home Quarantine for Orange and Green Zone

  • आ रहे प्रवासियों की संख्या और उसकी तुलना में कम संक्रमितों को देखते हुए जारी किया गया निर्देश
  • बिहारशरीफ में एक और नया मरीज मिलने से जिले में कोरोना के संक्रमितों की संख्या 81 हुई, 61 हो गए ठीक

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

बिहारशरीफ. बाहर से आने वाले प्रवासियों की संख्या और उसकी तुलना में कम मिल रहे पॉजिटिव केस को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने क्वारेंटाइन के नियमों में बदलाव करते हुए नया निर्देश जारी किया है। अब बाहर से आने वाले सभी प्रवासियों को सीधे सरकारी क्वारेंटाइन सेंटर में नहीं भेजा जायेगा। रेड जोन वाले राज्यों से आने वाले प्रवासियों को क्वारेंटाइन सेंटर में रखा जायेगा।

जबकि औरेंज व ग्रीन जोन से आने वालों को होम क्वारेंटाइन में रहने की सशर्त अनुमति दी जायेगी। होम क्वारेंटाइन के लिए कड़े नियम बनाये गये हैं। अगर नियमों का उल्लंघन किया तो 14 दिन के लिए क्वारेंटाइन सेंटर भेज दिया जायेगा। सीएस डा. राम सिंह ने बताया कि विभाग द्वारा दी गयी एडवाइजरी के मुताबिक बाहर से आने वाले प्रवासियों को दो ग्रुप में बांटकर क्वारेंटाइन किया जाना है।
होम क्वारेंटाइन वालों पर रखी जायेगी नजर
सीएस ने बताया कि होम क्वारेंटाइन के लिए भेजे गये लोगों पर आशा, आंगनबाड़ी, जीविका दीदी व अन्य स्वास्थ्यकर्मियों द्वारा लगातार नजर रखी जायेगी। देखा जायेगा कि वह घर में रह रहे हैं या नहीं। घरों को सैनिटाइज किया जा रहा है या नहीं। सारी जानकारी प्रतिदिन अपडेट करनी होगी। आवश्यकता पड़ने पर मेडिकल टीम भेजकर हेल्थ चेकअप किया जायेगा। इस संबंध में सदर, अनुमंडलीय और पीएचसी को निर्देश दे दिया गया है। होम क्वारेंटाइन की अवधि 14 दिन की होगी।
शहरी क्षेत्र में मिला एक नया कोरोना पॉजिटिव
शहरी क्षेत्र से एक नया कोरोना पॉजिटिव केस मिलने के साथ ही जिले में संक्रमितों की संख्या 81 हो गयी है। जबकि तीन मरीज पॉजिटिव से निगेटिव भी हुए हैं। अब तक 61 मरीज ठीक हो चुके हैं। डीएम योगेन्द्र सिंह ने बताया कि जो मरीज मिला है वह प्रवासी है और क्वारेंटाइन है। ऐसे में संक्रमण फैलने की संभावना कम है। फिर भी सावधानी बरती जा रही है। कुल 98 सेंपल जांच के लिए भेजा गया था। 27 लोगों का रिपोर्ट प्राप्त हुआ है। एक पॉजिटिव केस है। 51 लोगों का रिपोर्ट आना बाकी है। तीन लोग ठीक होकर वापस घर चले गये हैं। जिले में मात्र 3 कोरोना संक्रमित इलाजरत हैं।
नया पॉजिटिव मरीज हरियाणा से आया था
शुक्रवार को मिले पॉजिटिव मरीज हरियाणा से आया था और इसे किसान कालेज में क्वारेंटाइन किया गया था। 20 मई को विम्स में सैंपल भेजा गया था। जहां रिपोर्ट पॉजिटिव आयी थी। कन्फर्म होने के लिए 21 मई को पटना भेजा गया। जहां से पॉजिटिव कन्फर्म कर दिया गया। उन्होंने बताया कि विम्स से एक और पॉजिटिव केस कन्फर्म होने के लिए पटना भेजा गया है। -डा. राम सिंह, सीएस
तीन ग्रुप में बांटा गया रेड जोन को, शुक्रवार को 95 लोगों का सैंपल लिया गया
सैंपलिंग के लिए रेड जोन वाले स्टेट को तीन ग्रुप में बांटा गया है। दिल्ली, गुजरात, महाराष्ट्र को ए ग्रुप, हरियाणा, राजस्थान को बी ग्रुप और अन्य राज्य को सी ग्रुप में रखा गया है। सभी ग्रुप वाले रेड जोन से सैंपलिंग किया जा रहा है। औसतन ए और बी ग्रुप स्टेट से आने वाले लोगों में ही संक्रमित मिल रहे हैं। अब सी ग्रुप स्टेट से आने वाले प्रवासियों का सैंपल लिया जा रहा है ताकि इसका भी रेसियो पता चल सके। शुक्रवार को कुल 95 लोगों का सैंपल लिया गया है। जिसमें हरनौत से 34, सरमेरा से 1, कतरीसरा, चंडी, बिंद और राजगीर प्रखंड से 15-15 लोगों का सैंपल लिया गया है। इनमें से 9 सैंपल जांच के लिए विम्स भेजा गया है।
ज्ञानेन्द्र शेखर, डीपीएम

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना