पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ऐसे पंचों से भगवान बचाए:पंचों ने बेगुनाह को चोर करार कर ~ तीन लाख हर्जाना वसूला चोरी के ट्रैक्टर के साथ पकड़ाया दूसरा तो थाने में लगायी गुहार

बिहारशरीफएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पैसा ले रहा मिश्री यादव। फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
पैसा ले रहा मिश्री यादव। फाइल फोटो।
  • तुगलकी फरमान जारी करने वालों में पवाडीह पंचायत के मुखिया और जिला परिषद सदस्य

ऐसे पंचों से ताे भगवान ही बचाए। मामला ही कुछ ऐसा है। सिलाव प्रखंड क्षेत्र के पवाडीह पंचायत के चमरडीहा गांव में पंचायत लगाकर तुगलकी फरमान सुनाया गया। बिना कोई ठोस सबूत के पंचायत द्वारा गांव के ही एक बेगुनाह युवक को चोर करार दे दिया गया। पंचायत में फरमान जारी करने वालों में पंचायत के वर्तमान मुखिया, वर्तमान जिला परिषद सदस्य सहित कई गणमान्य लोग शामिल थे। पंचायत में किसी के मात्र कहने पर कि चोरी की घटना की रात उस रास्ते से युवक को जाते देखा था। पंचायत ने युवक को चोर करार दिया और तीन लाख हर्जाना वसूल लिया। जिसकी वीडियो वायरल हो रही है। चमरडीहा निवासी मिश्री यादव की ट्रैक्टर चोरी हुई थी। चोरी होने के बाद सुबह में जैसे ही लोग जमा हुए गांव के बलम चौधरी ने कहा कि गांव के पंकज कुमार को रात में इस रास्ते से जाते देखा है। जिसके बाद मिश्री यादव ने आनन फानन में पंकज कुमार के साथ मारपीट कर ट्रैक्टर की कीमत की मांग की। हर्जाना नहीं देने पर खेत जोत लेने की बात कही गई। उसके खेत को जोत कब्जे में ले लिया गया।

बस इतनी सी बात }आरोप है कि ट्रैक्टर चोरी होने की रात चमरडीहा गांव में उस रास्ते से युवक को जाते देखा गया था

गलती मानी लेकिन कहा दबंग नहीं मानेगा हमारी बात
इस मामले में पंच बने जिला परिषद सदस्य सतेंद्र पासवान ने कहा कि गलती तो हुई है, लेकिन एक बार पंचायत में जो फैसला हो गया वो हो गया। जब उनसे पूछा गया कि जब ट्रैक्टर भी मिल गया और चोर भी पकड़ा गया तो अब तो उसका रुपया वापस दिलाना पंचों का ही धर्म है। इस पर उन्होंने टूक शब्दों में कहा कि मिश्री यादव दबंग है। हम लोगों की बात नहीं मानेगा। थाना प्रभारी संतोष कुमार ने बताया कि चोरी गयी ट्रैक्टर के साथ चोर को हिलसा थाना पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया है। बेगुनाह को चोर साबित कर जुर्माना लिया गया है। वीडियो मिला है। पीड़ित युवक द्वारा थाने में आवेदन दिया गया है। जांच शुरू कर दी गयी है।

कर्ज लेकर दिए 3 लाख रुपये
इस मामले को लेकर गांव में पंचायत लगी। पंचायत में पंच परमेश्वर बने वर्तमान मुखिया दिनेश राम, जिला परिषद सदस्य सिलाव दक्षिणी सत्येन्द्र पासवान, गिरियक के पूर्व मुखिया, वार्ड सदस्य आदि। इन लोगों ने अपना फरमान सुनाया कि पंकज कुमार को तीन लाख जुर्माना देना होगा। पंचायत के दबाव बाद पंकज कुमार ने कर्ज लेकर तीन लाख रुपये पंचायत के हवाले कर दिया। कुछ ही समय बाद चोरी हुई ट्रैक्टर सहित चोर की गिरफ्तारी ब हिलसा थाना पुलिस द्वारा बीते 13 जनवरी को किया गया। जब जानकारी हुई कि ट्रैक्टर के साथ चोर गिरफ्तार हो गया है तो पंकज कुमार ने पंचों से रुपया वापस दिलाने की गुहार लगायी। लेकिन पंचों ने रुपया वापस दिलाने से इंकार कर दिया। जिसके बाद पीड़ित युवक ने स्थानीय थाना में पैसा वापस दिलाने की गुहार लगायी है। पीड़ित युवक ने कहा कि उसने ट्रैक्टर चोरी नहीं की थी। लगातार पंचों से गुहार लगाते रहे लेकिन गांव के बलम चौधरी के कहने पर चोर करार दे दिया गया। समाज में बदनामी हुई और मुंह दिखाने लायक नहीं छोड़ा। पंचों ने जबरन तीन लाख जुर्माना दिलाया। जबकि बलम चौधरी से उसका पूर्व से विवाद था। पीड़ित गांव छोड़कर अलग मेहनत मजदूरी कर कर्ज लिए पैसे को वापस करने की जुगाड़ में जुटा है।

खबरें और भी हैं...