कोरोना का असर:स्कूल, कॉलेज, हॉस्टल व कोचिंग बंद पर खुला है सभी 467 आंगनबाड़ी केंद्र

बिहारशरीफ20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर प्रखंड में धीरे-धीरे रफ्तार पकड़ रही है। बीते 3 दिनों की आंकड़ा देखें तो अब तक सदर प्रखंड में कुल 19 लोग पॉजिटिव मिले हैं। बुधवार को जहां प्रखंड क्षेत्र के चार स्वास्थ्यकर्मी पॉजिटिव पाए गए। वहीं गुरुवार को 7 लोग पॉजिटिव हुए। शुक्रवार को इसमें और इजाफा हुआ और सदर प्रखंड के कुल 8 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को लेकर एक ओर सरकार ने सभी स्कूल, कॉलेज, कोचिंग संस्थान , सिनेमा हॉल, मॉल से लेकर धार्मिक स्थल तक को आगामी 21 जनवरी तक बंद कर दिया है। वही सदर प्रखंड क्षेत्र के सभी 467 आंगनबाड़ी केंद्र को खुला रखा है। इसमें ग्रामीण क्षेत्र के 258 आंगनबाड़ी केंद्र और शहरी क्षेत्र के 209 केंद्र शामिल है।जबकि इन केंद्रों पर छोटे छोटे बच्चे पढ़ते हैं। भीषण ठंड के कारण 8वीं तक के स्कूल पहले ही बन्द कर दिए गए थे। फिर भी ठंड में ठिठुरते हुए बच्चों को आंगनबाड़ी केंद्र आना पड़ रहा था। बताते चलें कि एक आंगनबाड़ी केंद्र पर औसतन एक से डेढ़ दर्जन बच्चे नामांकित है। इस तरह देखा जाए तो प्रखंड के आंगनबाड़ी केंद्रों में कुल नामांकित बच्चों की संख्या 8000 से अधिक है। इन आंगनबाड़ी केंद्रों में अभिभावक अपने बच्चों को बाल विकास और बुद्धि में बढ़ोतरी के लिए भेजते हैं। नामांकित बच्चों की उम्र मात्र 3 से 6 वर्ष तक के होती है। सरकार ने बच्चों के पोषण, स्वास्थ्य और शिक्षा संबंधी आवश्यकताओं की पूर्ति करने के लिए एकीकृत बाल विकास सेवाओं के कार्यक्रम के रूप में ग्राम स्तर पर समर्थित एक केंद्र बनाया है। इस केंद्र में अधिकतम 6 वर्ष तक के आयु वर्ग के बच्चों के अलावा किशोर, युवतियों, गर्भवती महिलाओं तथा शिशु की देखभाल करने वाली माताओं की आवश्यकता पूर्ति की जाती है। 6 वर्ष से कम आयु के बच्चों की टीकाकरण भी इस केंद्र पर की जाती है।
आंगनबाड़ी बंद करने का नहीं मिला है निर्देश
आंगनबाड़ी केंद्र बंद नहीं होने से बच्चों में कोरोना संक्रमण बढ़ने का खतरा काफी बढ़ गया है। कहीं ऐसा न हो कि बाल विकास और बुद्धि में बढ़ोत्तरी के बजाय नौनिहालों के जान पर ही बन आए। सदर प्रखंड की सीडीपीओ शहरी व ग्रामीण दोनों ने संयुक्त रूप से स्वीकार किया कि उनके यहां के सभी आंगनबाड़ी केंद्र खुले हैं। उन्हें अभी तक आंगनबाड़ी केंद्र बंद रखने को लेकर कोई निर्देश प्राप्त नहीं हुआ है।

खबरें और भी हैं...