नए तरीके से ठगा:कोरोना का भय दिखा खुद को पुलिस बता शातिरों ने राहगीर से कर ली ठगी

बिहारशरीफ2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • किसान पुत्र बना बदमाशों का निशाना, रामचंद्रपुर के बस स्टैंड के समीप घटना

लहेरी थाना क्षेत्र रामचंद्रपुर स्थित बस स्टैंड के समीप बीच सड़क से सक्रिय बदमाशों ने दिन के उजाले में किसान पुत्र से 16500 रुपए की ठगी कर ली। नए तरीके से शातिरों ने घटना को अंजाम दिया। बाइक सवार दो बदमाशों ने खुद को पुलिस बता, कोरोना फैलने की बात कहते हुए ठगी की। पीड़ित चंडी थाना क्षेत्र के रामपुर-खरजमा गांव निवासी राजीव कुमार ने घटना की प्राथमिकी थाने में दर्ज कराई है। बदमाशों की हरकत समीप के सीसीटीवी कैमरे में कैद होने की बात कही जा रही है। आरोपों में पीड़ित ने बताया है कि वह रविवार को बीज की खरीदारी करने रामचंद्रपुर आया। बस स्टैंड के समीप दो युवक मिले। दोनों ने खुद को पुलिस बताते हुए कहा कि कोरोना फिर से फैल रहा है। इस कारण नागरिक व उनके सामानों की जांच की जा रही है। शातिरों के झांसा में युवक आ गया। युवक की तलाशी लेने के दौरान बदमाशों ने जेब से रुपया निकाल लिया। कहा कि रुपए थैले में रख लो। थैला में शातिर हाथ डाल दिया। युवक को लगा कि रुपया थैला में रखा गया। युवक ने जब शातिरों से आईकार्ड दिखाने को कहा तो दोनों उसे धक्का दे बाइक पर सवार हो फरार हो गया। थैला देखने पर उससे रुपया गायब मिला।

दो दिन बाद भी शातिरों की पहचान नहीं
घटनास्थल के समीप सीसीटीवी कैमरा लगा है। समीप के दुकानों में भी कैमरा है। नए तरीके के ठगी के दो दिन बाद भी पुलिस बदमाशों की पहचान नहीं कर सकी है। पीड़ित ने बताया कि केस के अनुसंधानकर्ता के निर्देश पर वह डीएसपी ऑफिस गए थे। जहां के कर्मियों ने उन्हें बताया कि आपको बदमाशों की पहचान करने के लिए बुलाया जाएगा। थानाध्यक्ष सुबोध कुमार ने बताया कि केस दर्ज कर पुलिस घटना की जांच में जुटी है। पीड़ित को फुटेज से बदमाशों की पहचान के लिए बुलाया गया था। वह नहीं आएं, इस कारण बदमाशों की पहचान नहीं हो सकी है।

खबरें और भी हैं...