पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

वट सावित्री पूजा:सुहागिन महिलाओं ने वट वृक्ष के फेरे लगाकर पूजा की, सत्यवान और सावित्री की कथा सुनी

बिहारशरीफ4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • लगाए फेरे और अखंड सौभाग्य की कामना की, सुबह से ही वट वृक्ष के आगे लगी रही सुहागिनों की भीड़

सुहागिनों ने शुक्रवार को अखंड सौभाग्य की कामना को लेकर वट सावित्री का व्रत किया। लॉकडाउन की वजह से इस बार कई जगहों पर सामूहिक पूजन नहीं किया गया। शहर के अधिकांश जगहों पर महिलाओं ने फिजिकल डिस्टेंस का पालन करते हुए वट वृक्ष की पूजा कर फेरे लगाये और सत्यवान-सावित्री की कथा सुनी। वट वृक्ष में कच्चे धागे लपेटा और परिक्रमा भी की। महिलाओं ने सोलह श्रृंगार कर पूजा की। तरह- तरह के फल-फूल और पकवान आदि का प्रसाद चढ़ाया।
पूजा के बाद अपने पति को ताड़ के पंखे का हवा झलने और प्रसाद खिलाने के बाद ही खुद अन्न जल ग्रहण किया। शहर के गुफापर, धनेश्वर घाट, अम्बेर,सोहसराय सहित दर्जनों जगहों पर वट वृक्ष के नीचे दोपहर तक महिलाएं पूजा करती दिखीं। इसी प्रकार ग्रामीण इलाकों में भी पूजा को लेकर उत्सवी माहौल रहा। जहां भी वट वृक्ष था महिलाएं पूजा अर्चना करते दिखीं। ज्योतिषाचार्य पंडित मोहन दत्त मिश्र ने कहा कि घर पर रहते हुए पूरी आस्था व श्रद्धा के साथ देवी सावित्री का पूजन किया गया।
मास्क लगा फिजिकल डिस्टेंस का पालन कर पूजा की
पूजा कर रही महिलाओं ने बताया कि वट सावित्री हमारी आस्था से जुड़ा हुआ है। सदियों से पूजा होती आ रही है। लॉकडाउन व फिजिकल डिस्टेंस को देखते हुए इस बार फिजिकल डिस्टेंस का पालन वट वृक्ष की पूजा अर्चना की। कई महिलाओं ने मास्क लगाकर पूजा की। इस बार बड़ी संख्या में लोगों ने अपने घर में ही वट पूजा की। बाजार में छोटे-छोटे बोनसाई पौधे भी बिक रहे थे।
महिलाओं ने की वट वृक्ष की पूजा
हिलसा:
पति के दीर्घायु के लिए महिलाओं ने शुक्रवार को वट सावित्री की पूजा की। लॉकडाउन के बावजूद भी सुबह होते ही सैकड़ों की संख्या में महिलाएं हाथ में थाली लिए बरगद के पेड़ के पास पहुंच गई और पूजा अर्चना की। धार्मिक मान्यता के अनुसार वट वृक्ष की पूजा पति की लंबी आयु और अखंड सौभाग्य के लिए की जाती है।
अस्थावां: पति की लंबी उम्र के लिये शुक्रवार को महिलाओं ने वट सावित्री की पूजा की। प्रखंड परिसर स्थित बरगद वृक्ष के नीचे सुबह से गांव की महिलायें हाथ में थाल में पूजन सामग्री लेकर पहुंच गयी। अंजु देवी, पूजा कुमारी, सुनीता कुमारी ने कहा कि मां सावित्री से अखंड सौभाग्य की कामना की है। परबलपुर में महिलाओं ने पति की दुर्घायु के लिए वट वृक्ष की पूजा की। कई जगहों पर महिलाओं ने सोशल डिस्टेंस का ध्यान नहीं रखा।
नूरसराय: प्रखंड के अलग-अलग गांवों में पूजा के लिए विवाहिताओं की भीड़ उमड़ी। कई जगहों पर लॉकडाउन की बंदिशें टूटती नजर आई। वट वृक्ष के समीप इतनी भीड़ थी कि शारीरिक दूरी का ख्याल नहीं रखा गया। थाना परिसर, प्रखंड कार्यालय परिसर में वट वृक्ष के नीचे भारी संख्या में महिलाओं की भीड़ देखी गयी। स्थानीय बाजार से लेकर ग्रामीण इलाकों तक में सुहागिन महिलाओं ने बरगद के पेड़ पर धागा बांधकर विधिवत पूजा की। सुबह से ही शुरू हुई पूजा का सिलसिला दोपहर तक चलता रहा। सुबह होते ही महिलाएं अपने साथ पूजन सामग्री लेकर जिन स्थानों पर बरगद का पेड़ था, वहां पहुंच गईं। 

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें