पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

दुष्कर्म कांड:नाबालिग सिद्ध करने की तिकड़म नहीं आई काम, उम्रकैद

बिहारशरीफ4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • दुष्कर्म कांड के सभी सात दाेषियाें को कोर्ट ने सजा सुनाई, 16 सितम्बर 2019 को राजगीर में हुई थी वारदात

करीब 15 माह बाद राजगीर किशोरी दुष्कर्म कांड के सभी सात दाेषियाें को कोर्ट ने सजा सुना दी है। जिला व्यवहार न्यायालय के अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश सप्तम सह पास्को स्पेशल न्यायाधीश मो. मंजूर आलम ने सातों आरोपी करण राजवंशी, रंजन कुमार उर्फ टूटू, आशीष कुमार, मिथुन कुमार, राम कुमार, राहुल कुमार और सोनू कुमार को आईपीसी की धारा 376 (डी) /34, 506, पाेस्को एक्ट की धारा 4 एवं 6 एवं अन्य धाराओं के तहत साक्ष्य को सही पाते हुए सभी को आजीवन कारावास के साथ-साथ पांच हजार रुपये अर्थदंड का भुगतान करने की सजा सुनायी है।

इनमें से चार आरोपियों ने अपने आपको नाबालिग सिद्ध करने का तिकड़म भिड़ाया था लेकिन कोर्ट की सक्रियता के कारण तिकड़म काम नहीं आयी और मामले की सुनवाई सेशन कोर्ट में हुई। इन आरोपियों ने जेजेबी एक्ट की आड़ लेने की कोशिश की थी ताकि कठोर सजा नहीं मिले। लेकिन किशोर न्याय परिषद के प्रधान न्यायिक दंडाधिकारी मानवेन्द्र मिश्रा के आदेश पर मेडिकल बोर्ड ने चारों आरोपियों की जांच की थी। जिसमें बालिग साबित हुए। दो आरोपियों ने आधार कार्ड के आधार पर खुद को नाबालिग बताया था।

लेकिन बोर्ड ने नियमों का हवाला देते हुए इसे नहीं माना। यही नहीं इस घृणित कांड के आरोपी को बचाने के लिए जिले के एक राजनेता ने पैरवी कर आरोपी राहुल कुमार का एक स्कूल से फर्जी प्रमाण पत्र भी बनवा दिया था। हालांकि अभियोजन द्वारा एक और प्रमाण पत्र कोर्ट में पेश किया गया। जिसके आधार पर मेडिकल जांच हुई और आरोपी बालिग साबित हुआ।

यदि ये चारों आरोपी खुद को जुवेनाइल साबित करने में कामयाब रहते तो जेजेबी एक्ट के तहत इन्हें अधिकतम तीन साल की सजा मिलती। यही नहीं आचरण में सुधार की आड़ लेकर तीन साल की सजा पूरी करने से भी बच सकते थे। मामले का स्पीडी ट्रायल हुआ और सेशन ट्रायल के दौरान तत्कालीन पाेस्को के स्पेशल न्यायाधीश एडीजे आलोक राज ने काफी तेजी से गवाही व साक्ष्यों का परीक्षण कराया। जो आज अंजाम तक पहुंचा।

क्या है मामला
पीड़िता 16 सितम्बर 2019 की सुबह 7 बजे अपने दोस्त के साथ लेनिन नगर राजगीर स्थित विपुलांचल पर्वत के पश्चिम किनारे पर घुमने गयी थी। इसी दौरान सातों आरोपियों ने घेर लिया और पीड़िता के साथ छेड़खानी करने लगे। पी़ड़िता के दोस्त ने जब विरोध किया तो उसके साथ मारपीट करते हुए बंधक बना लिया। दोस्त के सामने ही सातों अभियुक्तों ने पीड़िता के साथ से दुष्कर्म किया।

अधिकतम सजा देने की कोर्ट से गुजारिश की थी
सजा निर्धारण पर स्पेशल पास्को पीपी सुशील कुमार और जगत नारायण सिन्हा ने सभी आरोपियों को जघन्य घटना को अंजाम देने के अपराध में अधिकतम सजा देने की कोर्ट से गुजारिश की। इस जघन्य अपराध के लिए अभियुक्तों को फांसी की सजा देने का न्यायालय से अनुरोध किया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser