पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सुविधा:बाजार समिति के जीर्णोद्धार के दूसरे फेज का काम जल्द शुरू, 57 करोड़ होंगे खर्च

बिहारशरीफ12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बाजार समिति का स्थल निरीक्षण करते नगर आयुक्त व एसडीओ। - Dainik Bhaskar
बाजार समिति का स्थल निरीक्षण करते नगर आयुक्त व एसडीओ।
  • प्रशासनिक भवन, वेंडिंग प्लेटफॉर्म, पोखर निर्माण के साथ सड़कें बनेंगी,सभी दुकानों पर होगा सोलर सिस्टम

स्मार्ट सिटी के तहत बाजार समिति को नया लुक देने का काम चल रहा है। यहां आने वाले किसानों के साथ-साथ व्यापारियों को तमाम जरूरी सुविधाएं दी जा सके। बता दें कि बाजार समिति का दो फेज में जीर्णोद्धार किया जाना है। फर्स्ट फेज का काम जारी है। दूसरे फेज का भी टेंडर किया जा चुका है। कार्यादेश मिलने के बाद शीघ्र ही काम शुरू किया जाएगा। फेज टू का काम शुरू होने के पूर्व बुधवार को नगर आयुक्त अंशुल अग्रवाल एवं एसडीओ कुमार अनुराग ने स्थल निरीक्षण किया। फेज टू के लिए तैयार किए गए डीपीआर के अनुसार कहां-कहां क्या काम होना है, कहां अतिक्रमण की समस्या है और उससे कैसे निपटा जा सकता है। इन तमाम बातों की बारीकी से जानकारी ली। नगर आयुक्त ने बताया कि दूसरा फेज बहुत बड़ा प्रोजेक्ट है। कई बड़े काम किए जाने हैं। प्रशासनिक भवन, वेंडिंग प्लेटफार्म, तालाब निर्माण के साथ-साथ चौड़ी सड़कें होगी। इसके अलावा कई छोटी-छोटी दुकानें भी बनेगी। इस पर करीब 57 करोड़ खर्च किया जाना है। तैयार किए गए डिजाइन के अनुसार कहां-कहां अतिक्रमण को हटाना है। इसका निरीक्षण किया गया है। ताकि निर्माण कार्य शुरू होने के बाद किसी प्रकार की समस्या न हो। जहां-जहां अतिक्रमण हटाना है इसपर एसडीओ से विचार कर रूप-रेखा तैयार किया जाएगा। निरीक्षण के क्रम में स्मार्ट सिटी के प्रतिनिधि, कंपनी के साइड इंजीनियर सत्येन्द्र शर्मा, इंचार्ज राकेश कुमार उर्फ पप्पू, सुपरवाइजर मिथुन कुमार, लेबर हेड कन्तु शर्मा समेत अन्य लोग मौजूद थे।

जी प्लस 3 होगा प्रशासनिक भवन : नगर आयुक्त ने बताया कि बाजार समिति में एक प्रशासनिक भवन का निर्माण किया जाना है जो जी प्लस 3 बिल्डिंग होगा। यहां मिटिंग हॉल के अलावे अन्य प्रकार की सुविधा होगी। किसानों व व्यापारियों को किसी प्रकार की समस्या होती है तो उसका निदान किया जाएगा। इसके अलावे बड़ा तालाब का भी निर्माण किया जाना है। इसके लिए स्थल का चयन किया जा रहा है।

14 मीटर चौड़ी होंगी सड़कें
नगर आयुक्त ने बताया कि छोटे - बड़े वाहनों के आने-जाने में कोई समस्या न हो इसके लिए सभी वेंडिंग प्लेटफॉर्म व दुकानों के बीच 14-14 मीटर चौड़ी सड़कें होगी। सड़क के किनारे ड्रेनेज भी हाेगा ताकि जल जमाव की समस्या न हो। मुख्य द्वारा के अलावा हाइवे से भी रास्ता दिया जाएगा। वर्तमान में व्यवस्थित रास्ता नहीं होने के कारण लोग हाइवे पर भी सब्जी की खरीद बिक्री करते हैं। जिसके कारण जाम की समस्या हो जाती है। रोड बनने के बाद बड़ी गाड़ियों का आसानी से आवागमन होगा और कोई भी किसान सड़क के किनारे बाजार नहीं लगाएंगे।

वेंडिंग प्लेटफार्म के अलावा होंगी दुकानें

फेज टू के तहत फल-सब्जी की खरीद बिक्री के लिए तीन बड़ा वेंडिंग प्लेट फार्म का निर्माण किया जाना है। ताकि सभी प्रकार के व्यवसाय के लिए अलग-अलग बाजार की व्यवस्था हो सके। इसके अलावा कई छोटी-छोटी दुकानें भी होगी। नगर आयुक्त ने बताया कि इस प्रोजेक्ट के धरातल पर उतरने के बाद बाजार समिति को नया लुक मिलेगा। जल जमाव एवं कीचड़ की समस्या से निदान मिलेगी।

खबरें और भी हैं...