मॉब लिंचिंग:परबलपुर के मिर्जापुर गांव में मोबाइल चोरी का आरोप लगाकर ग्रामीणों ने पीट-पीटकर युवक को मार डाला

परबलपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
चोरी के आरोप मेें युवक की हत्या के बाद रोते-बिलखते परिजन। - Dainik Bhaskar
चोरी के आरोप मेें युवक की हत्या के बाद रोते-बिलखते परिजन।
  • देवेन्द्र केवट के घर में घुसकर मोबाइल चुरा रहा था रमेश, तभी पकड़ा गया

परबलपुर थाना क्षेत्र के मिर्जापुर गांव में शनिवार की देर रात मॉबलिंचिंग की घटना में एक युवक की जान चली गयी। मोबाइल चोरी का आरोप लगाकर भीड़ ने पीट-पीटकर 25 वर्षीय युवक की हत्या कर दी। मृतक की पहचान चंडी थाना क्षेत्र के मलबिगहा गांव निवासी उमेश केवट के पुत्र रमेश केवट के रूप में की गयी है।

स्थानीय ग्रामीण जहां मोबाइल चोरी का आरोप लगा रहे हैं वहीं इलाके में तरह-तरह की चर्चा है। मृतक की पत्नी कंचन देवी ने मलबिगहा के शिकंदर केवट, मिर्जापुर के देवेन्द्र केवट, उसकी पत्नी व एक अन्य को नामजद करते हुए 50 अज्ञात को आरोपी बनाया है। पुलिस ने देवेन्द्र केवट और उसकी पत्नी को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया है। मिली जानकारी के अनुसार देवेन्द्र केवट को गिरफ्तार कर लिया गया है।

लॉकडाउन में आया था घर, सिंकदर पर बुलाकर ले जाने का आरोप

मृतक के परिजनों ने बताया कि युवक तमिलनाडु में रहता था। लॉकडाउन के कारण वह घर आया हुआ था। पत्नी का आरोप है कि उसी गांव का सिकंदर उसे घर से बुलाकर ले गया था। उसके बाद पुलिस ने मौत की सूचना दी। वहीं गृहस्वामी देवेन्द्र केवट का कहना है कि तीन युवक थे। शोर मचाने पर दो युवक भाग निकले। रमेश को ग्रामीणों ने पकड़ लिया और पीट-पीटकर अधमरा कर दिया।

पुलिस जबतक पहुंची तबतक युवक की हो चुकी थी मौत, बेरहमी से ग्रामीणों ने पीटा था

शनिवार की देर रात देवेन्द्र केवट अपने घर में सोया हुआ था। देवेन्द्र के अनुसार एक 25 वर्षीय युवक उसके कमरे में प्रवेश कर गया और मोबाइल चुराने का प्रयास किया। हो हल्ला होने पर ग्रामीण जुटे और उक्त चोर की पिटाई कर दी। इसी बीच किसी ने पुलिस को इसकी सूचना दे दी। जब तक पुलिस पहुंचती तब तक ग्रामीणों की पिटाई से युवक की मौत हो चुकी थी। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया और चोरी का आरोप लगाने वाले देवेन्द्र केवट और उसकी पत्नी को गिरफ्तार कर थाने ले आयी।

सभी बिन्दुओं पर गहनता से जांच कर रही है पुलिस मोबाइल से खुलेगा राज
गृहस्वामी और उसकी पत्नी को थाने में लाने के बाद स्थानीय ग्रामीण आक्रोशित हो गये। दर्जनों महिला पुरुष थाने के गेट पर पहुंचकर हंगामा करने लगे। हंगामा की सूचना पर एसडी, डीएसपी, महिला पुलिस सहित कई थाने की पुलिस वहां पहुंची और समझा-बुझाकर मामला को शांत कराया। पुलिस देर रात गये मोबाइल चोरी के लिए घर में घुसने की बात संदिग्ध मानकर जांच कर रही है।

थानाध्यक्ष कुणाल चंद सिंह ने बताया कि पुलिस सभी बिन्दुओं पर जांच कर रही है। उन्होंने बताया कि मृतक की बाइक एक किलोमीटर दूर बंगपुर गांव के पास से बरामद की गयी है। मृतक के जेब से मिले मोबाइल से सुराग ढूंढने की कोशिश की जा रही है।

खबरें और भी हैं...