पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हादसा:कमरे में दौड़ा करंट, लोहे के बेंच पर भूंजा खा रहे दो भाई चपेट में आए, एक की मौत

थावे13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
थावे में मृतक के घर पर लगी लोगो की भीड़ - Dainik Bhaskar
थावे में मृतक के घर पर लगी लोगो की भीड़
  • घटना के बाद मची अफरा तफरी,अचानक तेज वोल्टेज आने से सीलिंग फैन में हुआ शॉर्ट सर्किट

करंट लगने से दो सगे भाई झुलस गए।जिसमें एक की मौत हो गई।जबकि दूसरे की हालत गंभीर बनी हुई है।घटना थावे थाना क्षेत्र के के विदेशी टोला पंचायत के विदेशी टोला गांव की है। हादसे के बाद अफरा तफरी मच गई। बिजली काटकर किसी तरह से दोनों भाइयों को इलाज के लिए अस्पताल लाया गया।जहां डॉक्टर ने मंजय कुमार गुप्ता को मृत घोषित कर दिया।मौत की खबर मिलते ही घर में कोहराम मच गया।
परिजनों के हृदय विदारक चित्कार से माहौल हुआ गमगीन
मौत की खबर मिलते ही घर में मातमी सन्नाटा छा गया।परिजनों के हृदय विदारक चित्कार से पूरा माहौल गमगीन हो गया। वही मृतक के तीन बेटी एक बेटा में सबसे बड़ी बेटी सात वर्ष की है।जबकि एक लड़का जिसका उम्र पांच वर्ष बताया जा रहा है। पत्नी प्रियंका देवी दहाड़ मारकर रो रही थी।मौत की सूचना मिलने पर थावे थाने एसआई श्याम सुंदर प्रसाद घटना स्थल पर पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर सदर अस्पताल पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए।

इस तरह हुआ हादसा, लोहे के बेंच पर बैठे थे दोनों भाई
थावे बाजार के स्टेशन रोड में विदेशी टोला निवासी परमेश्वर सोनी की साइकिल दुकान है। जहां पर उनके दोनों लड़के धनंजय कुमार व मंजय कुमार दोनों भाई लोहे की बेंच पर बैठकर भूंजा खा रहे थे।इसी दौरान तेज वोल्टेज आया और सीलिंग फैन में शॉर्ट सर्किट हो गया।जिस कारण लोहे के बेंच में करंट दौड़ गया।जिससे दोनों भाई झुलस गए आनन फानन में दोनों को अस्पताल लाया गया जहां डॉक्टरों ने मंजय कुमार गुप्ता को मृत घोषित कर दिया।वहीं धनंजय कुमार का इलाज चल रहा है।उसकी भी हालत गंभीर बनी हुई है।

दूसरी घटना बैकुंठपुर में सर्पदंश से मासूम की मौत
बैकुंठपुर| महम्मदपुर थाने के भीमपुरवां गांव में सर्पदंश से तीन वर्षीय मासूम की मौत हो गई। मृत मासूम व्यास ठाकुर का बेटा सुजीत कुमार था। घटना के संबंध में बताया गया कि सुजीत कुमार मंगलवार की देर शाम घर के बाहर बच्चों के साथ खेल रहा था। इसी दौरान विषैले सर्प ने उसे डंस लिया। अचेवस्था में परिजन उसे लेकर इलाज के लिए सदर अस्पताल गोपालगंज पहुंचे। सदर अस्पताल में इलाज के दौरान बच्चे की मौत हो गई। घटना के बाद परिजनों में कोहराम मच गया। बेटे की मौत से आहत मां सीता देवी शव से लिपट कर बार-बार मूर्छित हो रही थी। पिता व्यास ठाकुर की हालत भी बेटे के गम में खराब हो गई थी। सुजीत अपने चार भाई-बहनों में सबसे छोटा था।

खबरें और भी हैं...