पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मौत:अंतिम दर्शन के लिए तड़पती रही पत्नी, नहीं लाया गया पति का शव

बिक्रमगंजएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • महाराष्ट्र में काम करता था, 17 दिसंबर 2020 को गया था साउथ अफ्रीका

पति के शव का अंतिम दर्शन के लिए दो नवनिहालों के साथ तड़पती रही बदनसीब पत्नी जबकी बूढ़े मां- बाप की आंखे बेटे की अंतिम दर्शन के लिये पथरा गईं। बताते चलें कि सूर्यपुरा थाना क्षेत्र के अलीगंज गाँव के एक युवक की साउथ अफ्रीका में हुई मौत की सूचना मिलते ही परिजनों का जहां रो रोकर बुरा हाल हुआ था। जानकारी के अनुसार अलीगंज गांव निवासी बबन सिंह का 38 बर्षीय पुत्र राजेश कुमार परिवार की जीवकोपार्जन के लिये पूर्व से नासिक महाराष्ट्र में रहकर काम करता था।

बीते 17 दिसंबर 2020को वह साउथ अफ्रीका के गेबोउन में गया था जहां उसकी तबियत बिगड़ गई।इलाज के लिये उसे वहां के सहयोगियों के मदद से अस्पताल ले जाया गया। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत बीत माह 21 जनवरी को हो गई। राजेश को तीन साल की एक बेटी तथा डेढ़ साल का एक पुत्र है। घटना की सूचना मिलते ही पत्नी शिल्पा देवी जहां अपना सुध खो बैठी थी। वही परिजनों का रो रोकर बुरा हाल हो गया है। मां की आंखों में जहां अपने लाल की खोने का गम साफ तौर पर झलक रहा था।

वही पिता बबन सिंह की बेटे की खोने का गम मानो किसी टूटे हुए पहाड़ से कम नही था। राजेश के पिता से हुई वार्ता में उन्होंने बताया कि यह कैसा बिडम्बना है कि बेटे की अर्थी को कांधा देना नसीब नहीं हुआ। कारण की उसकी डेट बॉडी भारत व गाँव लाने में लगभग आठ लाख रुपये खर्च था। जबकि वहां के लोग उसे हिंदू नहीं अपने रीति रिवाज से उसके शव का शेविंग कर स्नान के बाद उसे कोर्ट ,पैंट शर्ट व टाई पहना कर शव को ताबूत में रखकर दफन कर दिया। जबकी यहां उसकी पत्नी और दोनों मासूमों के साथ वृद्ध माँ बाप की आँखे पथरा गया उसके शव की एक झलक पाने की।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज समय कुछ मिला-जुला प्रभाव ला रहा है। पिछले कुछ समय से नजदीकी संबंधों के बीच चल रहे गिले-शिकवे दूर होंगे। आपकी मेहनत और प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपको...

    और पढ़ें