केस दर्ज होने के विरुद्ध में की बैठक:बालू भंडारण में केस दर्ज होने से ईंट-भट्ठा संचालकों में नाराजगी

बक्सर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बैठक को संबोधित करते ईंट-भट्ठा संघ के प्रदेश अध्यक्ष। - Dainik Bhaskar
बैठक को संबोधित करते ईंट-भट्ठा संघ के प्रदेश अध्यक्ष।
  • ईंट-भट्ठा संचालकों पर केस दर्ज होने के विरुद्ध में की बैठक

शुक्रवार को ईंट भट्ठा संचालक के साथ प्रदेश कमेटी ने एक निजी मैरेज हाल में एक बैठक की। बिहार ईट उद्योग के अध्यक्ष मुरारी कुमार मुन्ना की अध्यक्षता में बैठक के दौरान कई निर्णय लिया गया। बताया जा रहा है कि सरकार के निर्देश पर स्थानीय प्रशासन अवैध खनन का आरोप लगाकर ईट भट्टा संचालक द्वारा बालू के भंडार किए जाने पर केस दर्ज किया जा रहा है।

केस दर्ज होने से नाराज भट्टा संचालकों ने प्रदेश कमेटी को सूचना दी। सूचना के आलोक में बिहार ईंट उद्योग के प्रदेश अध्यक्ष ने बक्सर पहुंचकर मामले की जानकारी लेने के बाद जिलाधिकारी से मिल मामले से अवगत करने की निर्णय लिया। प्रदेश अध्यक्ष मुरारी कुमार मुन्ना ने बताया कि ईट भट्टा संचालक अपने पट्टे के नवीनीकरण के दौरान बालू और मिट्टी की भंडार का भी चलन जामा करते है।

इसके अलावे मिट्टी कटाई की भी उसी दौरान अनुमति ली जाती है। क्योकि, ईट तैयार करने में सफेद बालू और मिट्टी की जरूरत पड़ती है। उन्होंने बताया कि सभी उपयोगी सामग्री का एक साथ परमिशन लिया जाता है। सरकार के नियम शर्त के साथ बालू का भंडार भी है। जब भट्टा मालिक बालू का भंडार का परमिशन लिया है तो वह अवैध कैसे हो गया।

खबरें और भी हैं...