पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बालगृह में बच्चे को पीटा:सहायक निदेशक, संरक्षण पदाधिकारी, काउंसलर हुए कार्यमुक्त

बक्सर25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बाल गृह में छात्र शिवम की पिटाई मामले में जांच रिपोर्ट के आधार पर डीएम अमन समीर ने सहायक निदेशक, बाल संरक्षण ईकाई, बक्सर, बाल संरक्षण पदाधिकारी, बक्सर एवं बाल संरक्षण में कार्यरत काउंसलर को तत्काल प्रभाव से पदीय दायित्वों से मुक्त कर दिया है। बता दे कि अध्यक्ष व सदस्य बाल कल्याण समिति, बक्सर के द्वारा बाल गृह, बक्सर में आवासित बालक की पिटाई किये जाने की जाँच कराने का अनुरोध किया गया था। जिसके आलोक में अपर समाहर्ता, बक्सर की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय जाँच समिति का गठन करते हुये रिपोर्ट की मांग की गयी।

जाँच रिपोर्ट में स्पष्ट है कि आवासित बच्चों से रेण्डमली पूछ-ताछ की गयी, जिसमें उनके द्वारा पीड़ित बच्चा शिवम की पिटाई सहायक निदेशक बाल संरक्षण ईकाई, बक्सर के द्वारा बाल संरक्षण पदाधिकारी, बक्सर एवं काउंसलर की मौजूदगी में किये जाने की पुष्टि की गयी। पीड़ित लड़का शिवम के बायें हाथ पर कटने के कई निशान पाये गये तथा उनके दाहिने हाथ के ऊपरी हिस्से में चोट का निशान पाया गया था। इतना ही नही जाँच के क्रम में जब समिति द्वारा बच्चों से पूछताछ की जा रही थी तब सीपीओ नितेश कुमार पीड़ित शिवम एवं कुछ अन्य बच्चों को खेल कूद के लिए ले गये थे।

जिससे सीपीओ के द्वारा जाँच को प्रभावित करने की मंशा परीलक्षित होती है। उक्त पर समिति के द्वारा पूछे जाने पर सीपीओ द्वारा बेहद नकारात्मक रवैया अपनाते हुए असंतोषप्रद जवाब दिया गया। इसी तरह जाँच समिति द्वारा बाल गृह बक्सर में संचारित आगंतुक पंजी का अवलोकन किया गया। अवलोकन के क्रम में पाया गया कि सहायक निदेशक बाल संरक्षण ईकाई, बक्सर के द्वारा पंजी में उनके आवागमन की प्रविष्टि नहीं की गई है एवं बाल संरक्षण पदाधिकारी की प्रविष्टि भी नियमित नहीं है, जबकि इनके द्वारा लगभग प्रतिदिन बाल गृह का भ्रमण किया जाता है, जो सीसीटीवी फुटेज से स्पष्ट है। बच्चों से पूछताछ के क्रम में बच्चों द्वारा बताया गया कि एडीसीपीयू प्रतिदिन आते है एवं रात्रि 08-09 बजे के करीब जाते है जिसकी पुष्टि सीसीटीवी कैमरा के फुटेज से भी होता है।

फुटेज से यह भी स्पष्ट है कि बाल गृह आगमन के बाद एडीसीपीयू का सरकारी वाहन उन्हें ड्राप करने के बाद परिसर से चला जाता है एवं रात्रि में प्रस्थान के समय वाहन उन्हें पिकप करने के लिए आता है, जिससे सरकारी कार्यों का निष्पादन भी संदेहास्पद प्रतीत होता है।जाँच के क्रम में यह भी पाया गया कि जिला बाल संरक्षण इकाई, बक्सर के द्वारा कुल 11 कैमरा लगा है। किन्तु किसी भी कैमरे के कवरेज में मुख्य द्वार से बाल गृह में प्रवेश कर रहे व्यक्ति नहीं दिखते है बाल गृह के प्रवेश द्वार से अधीक्षक के कार्यालय तक कैमरे में स्पष्ट नहीं है जो एक महत्त्वपूर्ण एरिया है। इसी दौरान 03 जुलाई को विद्युत आपूर्ति बाधित होने के उपरांत डीजल की उपलब्धता नही है एवं साथ ही किसी भी कक्ष के बल्ब एवं पंखे इन्वेंटर से कनेक्ट नहीं है जिस कारण कभी भी अप्रिय घटना की संभावना बनी रहती है।

एडीसीपीयू के द्वारा बताया गया कि यह जिम्मेदारी काउंसलर की है। ऐसी परिस्थिति में ईंधन की समुचित व्यवस्था नहीं करना दर्शाता है कि बाल गृह संरक्षण के संचालन में काउंसलर द्वारा लापरवाही बरती जा रही है। ऐसी परिस्थिति में ईंधन की समुचित व्यवस्था नहीं करना दर्शाता है कि बाल गृह संरक्षण के संचालन में काउंसलर द्वारा लापरवाही बरती जा रही है।

जांच समिति द्वारा रिपोर्ट किया गया है कि बच्चों से पूछताछ के क्रम में सभी बच्चे सहमे हुये पाये गये। इस तरह जांच रिपोर्ट एवं वर्तमान परिस्थिति पर सम्यक विचारोपरांत स्पष्ट है कि जिस उद्देश्य की पूर्ति के लिए बाल गृह का निर्माण किया गया है उस उद्देश्य के विपरीत सहायक निदेशक बाल संरक्षण ईकाई बक्सर, बाल संरक्षण पदाधिकारी, बक्सर एवं बाल संरक्षण में कार्यरत काउंसलर के द्वारा कार्य किया जा रहा है जो किशोर न्याय (बालको की देखरेख और संरक्षण) अधिनियम, 2015 एवं बिहार किशोर न्याय (बालको की देख-रेख एवं संरक्षण) नियमावली 2017 में विहित प्रावधानों के अनुकूल नहीं है।

ऐसे में तथ्य एवं वर्तमान परिस्थिति तथा विषय की गंभीरता को देखते हुये बच्चों के हित तत्काल प्रभाव से सहायक निदेशक, बाल संरक्षण ईकाई, बक्सर के बाल संरक्षण पदाधिकारी, बाल संरक्षण में कार्यरत काउंसलर को पदीय दायित्वों से मुक्त कर दिया गया है। डीएम ने यह कार्रवाई करते हुए सामाजिक सुरक्षा कोषांग बक्सर की सहायक निदेशक पूनम कुमारी को अगले आदेश तक सहायक निदेशक, बाल संरक्षण ईकाई के पदीय दायित्वों के निर्वहन हेतु प्रतिनियुक्त करने का आदेश जारी किया है। इसके साथ ही निदेश दिया है कि पत्र प्राप्ति के साथ ही सहायक निदेशक बाल संरक्षण इकाई बक्सर से अविलंब प्रभार ग्रहण करे।

खबरें और भी हैं...