बक्सर में ITI के छात्रों ने किया जमकर बवाल:परीक्षा कराने की मांग लेकर गजेंद्र ITI के छात्रों ने जमकर किया हंगामा

बक्सर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हाईवे पर मौजूद ITI के छात्र। - Dainik Bhaskar
हाईवे पर मौजूद ITI के छात्र।

बक्सर के चुरामनपुर स्थित गजेंद्र ITI सेंटर पर सोमवार को सैकड़ों छात्र जमा हुए और परीक्षा कराने की मांग के लिए जमकर बवाल मचाया। इस हंगामे को देखते हुए संचालिका शारदा सिन्हा द्वारा छात्रों को बाहर जाने की बात कही गई। तभी, आक्रोशित छात्रों के बुलाने पर मीडियाकर्मी मौके पर पहुंचे। इस दौरान बवाल के सम्बंध में सवाल पूछने पर गजेंद्र ITI की संचालिका शारदा सिन्हा मीडियाकर्मी पर भड़क उठी और कैमरे तोड़ने का प्रयास किया। वही शारदा सिन्हा का यह हरकत कुछ समय के लिए कैमरे में रिकॉर्ड भी हो गया जिसे देखकर स्थिति को समझा जा सकता है।

छात्रों ने कहा कि उनसे एडमिशन के दौरान परीक्षा के नाम पर ITI प्रबंधक द्वारा सारा फी पहले ही जमा करा लिया गया है। आज सोमवार से उनकी परीक्षा होनी है। लेकिन, भाइयों के आपसी विवाद के कारण हम छात्रों का भविष्य खराब होने की स्थिति में है। भाइयों के विवाद में एक भाई द्वारा ITI में ताला जड़ दिया गया। ऐसे में हमारी परीक्षा होम सेंटर पर कैसे होगी। इसकी सूचना पर सदर SDO मौके पर पहुंचे और छात्रों की बात सुन उनके परीक्षा दिलवाने के आश्वासन दिया गया।

होम सेंटर नहीं होने के कारण दर्जनों छात्र परीक्षा में शामिल नहीं हुए। बताया जा रहा है कि परिवार संपत्ति बंटवारे को गजेंद्र आईटीआई सेंटर को बंद कर दिया गया था। सेंटर बंद होने के बाद लगभग 300 छात्रों का वार्षिक परीक्षा को लेकर सोमवार से शुरू किया जा रहा था। सेंटर पर परीक्षा लेने को लेकर रविवार को छात्रों ने संचालक का घेराव करते हुए समय पर परीक्षा की मांग किया। लेकिन, रविवार की देर शाम आईटीआई संचालक की गिरफ्तारी होने के बाद छात्रों की परीक्षा अधर में लटक गया। सोमवार की सुबह सेंटर पर परीक्षा देने पहुंचे छात्रों ने सेंटर बंद होने पर जमकर बवाल किया। वही महिला आईटीआई में सेंटर होने के बाद दर्जनों छात्र परीक्षा में बैठने से इंकार करते हुए परीक्षा छोड़ दिया। SDO धीरेंद्र मिश्रा ने बताया कि गजेंद्र आईटीआई के छात्रों की वार्षिक परीक्षा वैकल्पिक तौर पर महिला ITI सेंटर में कराया जा रहा है। ताकि, छात्रों का वार्षिक परीक्षा समय पर लिया जा सके।

खबरें और भी हैं...