• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Buxar
  • DIO Said Buxar District's Performance In The State Is The Best Due To The Enthusiasm Of Adolescent Girls About Vaccination, The Target Will Be Completed Soon

जिले में 34 फीसदी किशोरों को लगी कोवैक्सीन:डीआईओ बोले - टीकाकरण को लेकर किशोर-किशोरियों के उत्साह के कारण राज्य में बक्सर जिले का प्रदर्शन सबसे बेहतर, जल्द पूरा हो जाएगा लक्ष्य

बक्सर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिले में 3 जनवरी से हीं कोरोना के खिलाफ जंग की दूसरी कड़ी में 15 वर्ष से लेकर 18 वर्ष से कम उम्र के किशोर किशोरियों का टीकाकरण अभियान व्यापक स्तर पर चल रहा है। टीकाकरण को लेकर किशोर-किशोरियों के उत्साह के कारण सूबे में बक्सर जिले का प्रदर्शन सबसे बेहतर है। युवाओं का उत्साह देख कर यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि 15 से 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों का टीकाकरण अपने निर्धारित समय से पहले पूर्ण हो जाएगा। आंकड़ों पर गौर करें तो 07 जनवरी को 7500 लोगों को टीकाकृत किया गया। 06 जनवरी तक जिले के 43768 किशोर लाभुकों को टीकाकृत किया जा चुका था। जिनमें 4 जनवरी को 12364, 5 जनवरी को 11489 और 6 जनवरी को 19915 किशोर-किशोरियों को टीका दिया जा चुका है। जबकि कुल मिलाकर 51268 लोगों को टीकाकृत किया जा चुका है। इस उम्र वर्ग के लाभुकों को सिर्फ कोवैक्सीन का टीका लगाया जा रहा है। जिसकी पहली डोज लगाने के 28 दिन बाद ही दूसरी डोज भी लगायी जा सकेगी।

18.5 लाख लोगों को अबतक लगाया गया है टीका
जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. राज किशोर सिंह ने बताया कि 18 वर्ष व उससे अधिक उम्र के लोगों को भी टीका दिया जा रहा है। 6 जनवरी तक जिले में 1037606 लाभुकों को टीके की पहली और 811928 को दूसरी डोज दी जा चुकी है। जिनमें 18 से 45 वर्ष तक के 622322 को पहली और 480143 को दूसरी, 45 से 60 के बीच 199297 को पहली और 176325 को दूसरी डोज दी गयी है। वहीं, 60 वर्ष से अधिक उम्र के 158144 बुजुर्गों को पहली और 141403 को दूसरी डोज लग चुकी है। उन्होंने बताया कि युवाओं के टीकाकरण में तेजी लाने के लिए स्थानीय स्तर पर सभी उच्च विद्यालय व निजी विद्यालयों, कोचिंग संस्थान, मदरसों से समन्यवय स्थापित किया जा रहा है। ताकि सभी युवाओं को टीका लगाते हुए उन्हें कोविड-19 से सुरक्षित किया जा सके।

टीका लेने के बाद कोई साइड-इफेक्ट नहीं
डीएवी की 10वीं की 15 वर्षीय छात्रा गरिमा सिन्हा ने बीते दिन कोवैक्सीन की पहली डोज ली ही। टीका लेने के बाद वो काफी उत्साहित हैं। गरिमा ने बताया कि उनके घर में सभी बड़े लोगों द्वारा टीका लगाया जा चुका है। टीका लगाने से मुझे कोई समस्या नहीं हुई और मैं अब खुद को कोरोना वायरस से सुरक्षित महसूस कर रही हैं।

टीका लेने का बाद भी कोविड प्रोटोकॉल का करें पालन
डीआईओ डॉ. सिंह ने बताया, संक्रमण से सुरक्षा के लिए सरकार द्वारा अब 15 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों को सुरक्षा का टीका लगाया जा रहा है। टीका की दोनों डोज लोगों को समय पर लगाते हुए खुद को संक्रमण के प्रभाव से सुरक्षित करना चाहिए। उन्होंने बताया, लोगों को टीका लगाने के बाद भी कोविड प्रोटोकॉल का पालन करना चाहिए। सभी लोग पूरी तरह मास्क, सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें और लोगों से सामाजिक दूरी बनाए रखें। जिला प्रशासन तथा स्वास्थ्य विभाग द्वारा भी लोगों को मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए जागरूक किया जा रहा है। लोग खुद में सतर्क रहकर अपने और अपने परिवार को संक्रमण से सुरक्षित रख सकते हैं।

खबरें और भी हैं...