पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुर्दे लेंगे परीक्षा:इंटरमीडिएट की परीक्षा में मृत, रिटायर्ड और गुमनाम शिक्षकों की ड्यूटी

बक्सर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 1 फरवरी से शुरू होगी परीक्षा, नौकरी छोड़ चुके शिक्षकों की भी लगा दी गई है ड्यूटी

इस बार इंटर की परीक्षा में विभाग ने मृत लोगों को भी वीक्षक बना दिया है। सुनने में भले ही अटपटा लगे किंतु विभाग द्वारा जारी पत्र से इसका खुलासा हुआ है। पत्र में मृत व नौकरी छोड़ चुके लोगों से भी इस बार की इंटर परीक्षा में वीक्षण कराए जाने का निर्देश दिया गया है। दरअसल प्रशासन की पहल पर शिक्षकों का रेंडमाइजेशन करा इंटरमीडिएट परीक्षा 2021 की ड्यूटी लगाई जा रही है।

अधिकारियों का कहना है कि रेंडमाइजेशन के चक्कर में लेटर इश्यू हो गया है। मृतक, नौकरी छोड़ चुके, रिटायर्ड हो चुके और ट्रांसफर किये जा चुके शिक्षकों से भी ड्यूटी कराने का आदेश है। मामला सामने आने के बाद आनन- फानन में विभाग को सूचना दी गई है। एक फरवरी से 13 फरवरी तक इंटरमीडिएट की परीक्षा ली जाएगी। जिले में कुल 28 केंद्र बनाए गए हैं। बक्सर में 20 व डुमरांव अनुमंडल में 8 केंद्र है। परीक्षा में बक्सर में 738 जबकि डुमरांव अनुमंडल क्षेत्र में 348 शिक्षकों को वीक्षक के रूप में ड्यूटी लगाई गई है।

बड़कागांव में रिटार्यड शिक्षक को भेजा ड्यूटी का पत्र

इटाढ़ी के दीवान के बड़कागांव स्थित हाई स्कूल से एक साल पहले रिटायर हो चुके शिक्षक सुभाष साहू की ड्यूटी इस बार इंटर परीक्षा में लगाने से संबंधी पत्र प्राप्त हुआ। तो सभी शिक्षक अवाक रह गए। शिक्षा विभाग से संबंधित पदाधिकारियों को जब इसकी भनक लगी तो सब कुछ स्पष्ट हो गया। रिटायर हुए शिक्षक सुभाष साहू को गलती से वीक्षक के रूप में ड्यूटी पर लगाया गया है।
5 वर्ष पूर्व मृत शिक्षिका को भेजा लेटर: डुमरांव के कन्या मध्य विद्यालय राजगढ़ चौक की मृत शिक्षिका उषा कुमारी की ड्यूटी वीक्षक के रूप में डीके कॉलेज डुमरांव में लगा दी है। इनका निधन वर्ष 2016 में ही हो चुका है। इस बार की इंटर परीक्षा में उनकी ड्यूटी संबंधित पत्र जारी है। पत्र जारी होने के बाद स्कूल के शिक्षक व उनके परिजन सकते हैं।
प्रतिभा के नाम से पत्र, लेने वाला कोई नहीं
इटाढ़ी में चांदी मध्य विद्यालय है। जहां प्रतिभा कुमारी के नाम से हर बार ड्यूटी लगाए जाने की चिट्ठी आती है जबकि उस नाम का आज तक वहां कोई शिक्षिका पदस्थापित ही नहीं रही है। जबकि इस बार भी उनकी ड्यूटी लगा दी गई है। हद है कि प्रतिभा नाम से कोई टीचर नहीं होने की बात को लेकर प्रशासन द्वारा कई बार ऊपर में सूचना दी जा चुकी है। बावजूद के प्रतिभा की ड्यूटी लगी रहती है।

तीन वर्ष पहले छोड़ी नौकरी, फिर भी ड्यूटी
डुमरांव कन्या मध्य विद्यालय की शिक्षिका रही डॉ. अल्फिया नूरी को नौकरी छोड़े 3 साल बीत गए बावजूद उनकी ड्यूटी इंटर परीक्षा में वीक्षक के रूप में राज हाई स्कूल में लगा दी गई है। वहीं अनुसूचित जाति प्राथमिक विद्यालय डुमरांव की शिक्षिका रही रूबी कुमारी ने भी तीन साल पहले शिक्षिका की नौकरी छोड़ चुकी है उन्हें उत्क्रमित उच्च विद्यालय भोजपुर में प्रतिनियुक्त कर परीक्षा तैयारी की कलई खोल दी है।

बोर्ड के आदेश पर रेंडमाइजेशन के आधार पर शिक्षकों की ड्यूटी लगाई गई है। ऐसे में कुछ लोगों के नाम को लेकर थोड़ी त्रुटियां हुई हैं। जिसे सुधार किया जा रहा है। -देवेश कुमार चौधरी, जिला शिक्षा पदाधिकारी, बक्सर

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों में आपकी व्यस्तता बनी रहेगी। किसी प्रिय व्यक्ति की मदद से आपका कोई रुका हुआ काम भी बन सकता है। बच्चों की शिक्षा व कैरियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी संपन...

    और पढ़ें