पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वॉरियर:घर-घर जाकर लोगों को जागरूक कर रही हेवंती

बक्सरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना के संक्रमण के बारे में आशा कार्यकर्ता बताती हैं सोशल डिस्टेंसिंग के अनुपालन का महत्त्व

कोरोना संक्रमणकाल में लोगों को बेहतर सुविधा प्रदान करने एवं संक्रमण से बचाव में चिकित्सकों से लेकर क्षेत्रीय कार्यकर्ताओं तक सभी अपना योगदान दे रहे हैं। राज्य के सभी जिलों में इसको लेकर आशा कार्यकर्ता घर-घर जाकर सर्वे कर कार्य भी किया जा रहा है। जिसमें बक्सर के डुमरांव प्रखंड के पूर्वी पासवान टोला की आशा हेवंती देवी के योगदान की चर्चा हर-जगह हो रही है। हेवंती देवी न सिर्फ अपनी जिम्मेदारियों को बखूबी निभा रहीं है बल्कि संक्रमण के इस दौर में आम लोगों को कोरोना के प्रति निरंतर जागरूक भी कर रही हैं।

हेवंती देवी विगत 20 वर्षों से आशा के रूप में कार्य कर रही हैं। उन्होंने अपने इस लंबे अनुभव एवं कार्य के प्रति ईमानदारी को लेकर अपने पंचायत में अलग की पहचान बनायी हैं। जिसके कारण लोग उनकी  मेहनत और लगन की मिसाल भी देते हैं। हेवंती देवी कहती हैं, कोरोना के कारण आज पूरा देश संघर्ष कर रहा है। लोगों को संक्रमण से बचाने के लिए जिले का हरेक विभाग लगा हुआ है। इसलिए ऐसे हालात समुदाय स्तर पर लोगों को कोरोना के प्रति जागरूक करने की जिम्मेदारी में एक आशा होने के नाते अधिक बढ़ जाती है।

वह बताती हैं कि वह प्रतिदिन लोगों को हाथ धोने, भीड़-भाड़ में जाने से बचने एवं सामजिक दूरी जैसे उपाय अपनाने के लिए लोगों को जागरूक करती है. ताकि उनके परिवार के साथ उनका गांव, राज्य एवं देश कोरोना से सुरक्षित रहे। हेमंत देवी गृह भ्रमण के दौरान घर के सभी सदस्य स्वच्छता का पालन करें और इसी से कोरोना के संक्रमण से उनका बचाव होगा इस बात को वे प्रतिदिन दुहराती हैं। लोगों को हाथ धोने के सही तरीकों के बारे में नियमपूर्वक बताने के अलावा क्षेत्र की महिलाओं को परिवार नियोजन के परामर्श देकर विभिन्न साधनों को अपनाने के लिए भी प्रोत्साहित भी कर रही हैं। हेवंती देवी अपने क्षेत्र में सभी बाहर से आनेवाले लोगों का रिकॉर्ड रखती हैं और उनके घरों को चिन्हित करती हैं।

इसकी पूरी जानकारी वे निकटवर्ती स्वास्थ्य अधिकारियों को मुहैय्या कराती हैं और ऐसे लोगों की जांच में भी अपना सहयोग करती हैं। गांव के मुखिया नवीन यादव ने बताया हेवंती देवी आस पास के कई गांव के आशा कार्यकर्ताओं के लिए एक रोल मॉडल हैं। कई आशा कार्यकर्ता उनकी कार्यशैली का अनुसरण करती हैं और कहती हैं कि हेवंती देवी के इतने लम्बे कार्यकाल तक इतनी उर्जा और लगन से कार्य करना उन्हें भी अपने काम को और बेहतर तरीके से करने की प्रेरणा देता है। अगर सभी आशा कार्यकर्ता हेवंती देवी का अनुसरण करें तो क्षेत्र कोरोना काल से सुरक्षित बाहर निकल आएगा।

खबरें और भी हैं...