बक्सर में वृजबिहारी चौधरी हत्याकांड मामला:मृतक के बेटे ने दो पर दर्ज कराया FIR, 1 आरोपी गिरफ्तार

बक्सर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बक्सर जिले के एकौनी गांव में सोमवार को हुए बृज बिहारी चौधरी उर्फ लेदरु चौधरी हत्याकांड में मृतक के बेटे मनन चौधरी ने गोली मारने वाले पवन सिंह तथा उसे हथियार मुहैया कराने व उसे भागने के लिए अपनी बाइक देने वाले मकसूदन चंद उर्फ मुटी चंद के खिलाफ नामजद FIR दर्ज कराया है। पुलिस ने मुटीचंद को गिरफ्तार कर लिया है। दर्ज FIR में मनन ने बताया है कि पवन के पास उसका 10,000 रुपए बकाया था।

बेटा ममन ने बताया कि वह नारायण उपाध्याय के द्वार पर उसी पैसे की मांग पवन से कर रहा था। इस दौरान पवन तथा मुटी हम से उलझ गए तथा गाली गलौज करने लगे। इसी दौरान हमारे पिता वहा पहुंचे तथा दोनों को समझाने लगे। मेरे पिता की बात से नाराज हो मुटी अपने घर गया तथा उधर से अवैध हथियार लाकर पवन को दिया और बोला कि लेदरू को मार दो। हम लोग कुछ समझ पाते इसके पहले पवन उस हथियार से फायर कर चुका था, जो गोली मेरे पिता के बाए हाथ और छाती के पास लगी। इसके बाद मुटी अपनी बाइक लेकर आया और पवन को दिया पवन उसी बाइक पर बैठ गांव से बाहर भागा।

दर्ज FIR पर पुलिस द्वारा मुटीचंद को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया सूत्रों का कहना है कि मुटी मुख्य आरोपी पवन का शागिर्द है तथा उसके साथ मिल मादक पदार्थों की तस्करी में भी शामिल रहा है। पुलिस इस बात की तहकीकात भी कर रही है पवन तथा उसे गिरोह मादक पदार्थों की तस्करी के साथ-साथ कही हथियारों की तस्करी में तो नहीं संलिप्त था।

वहीं बृज बिहारी उर्फ लेदरु हत्याकांड के पीछे मुख्य वजह हेरोइन की तस्करी है। पड़ताल में पहले यह बात सामने आ चुकी है कि विवाद का मुख्य वजह मादक पदार्थों की तस्करी के पैसों का लेनदेन था। सूत्रों का कहना है कि पवन तथा उसका गिरोह लंबे समय से हेरोइन तस्करी में शामिल रहा है। यही नहीं पवन दबंग प्रवृत्ति का था तथा कमजोर ग्रामीणों को डरा धमका कर उनका भाई भयादोहन भी करता था। SDP0 राज ने भी इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि मादक पदार्थों की तस्करी के सुराग मिले हैं इसकी जांच की जा रही है।

पुलिस सूत्रों की माने तो इस हत्याकांड के बाद भले ही सिर्फ दो लोगों पर नामजद एफआईआर दर्ज कराया गया है लेकिन पुलिस जांच में कई अन्य लोगों पर भी गाज गिर सकती है। सूत्रों का कहना है कि पुलिस पूरे मामले में मादक पदार्थों की तस्करी की प्रमुखता से जांच कर रही है।

ASP राज ने कहा कि इस हत्याकांड में एक अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया गया है। मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। उन्होंने कहा कि मादक पदार्थों की तस्करी में उत्पन्न विवाद के संकेत मिले हैं इसकी गहराई से पड़ताल की जा रही है।