शादी करने हेलीकॉप्टर से निकला दूल्हा:बक्सर में रेलवे इंजीनियर ने 8 लाख में बुक कराया हेलीकॉप्टर, DM की अनुमति के बाद निकली बारात

बक्सर6 महीने पहले

दियरांचल में पहली बार किसी दूल्हे की बारात सड़क मार्ग के बजाय हवाई मार्ग से निकली है। दूल्हा बन हेलीकॉप्टर पर उड़ने वाला खुद आंध्र प्रदेश रेलवे में इंजीनियर के पद पर तैनात है। गांव में पहली बार हेलीकॉप्टर को देखने के लिए हजारों की भीड़ उमड़ गई थी। वाकया ब्रह्मपुर थाना क्षेत्र के परसिया गांव का है। बक्सर से उड़कर दूल्हा भोजपुर शादी करने निकला। बारात निकलने से पहले वहां मौजूद लोग हेलीकॉप्टर के साथ फोटो खिंचवाते तथा सेल्फी लेते नजर आएं।

दरअसल, परसिया के सुरेंद्र नाथ तिवारी और उमरावती देवी के पुत्र राजू तिवारी आंध्र प्रदेश रेलवे में इंजीनियर है। बुधवार को उनकी शादी भोजपुर जिला के बड़हरा थाना क्षेत्र के रामशहर गांव के स्वर्गीय वीरेंद्र कुमार चौबे व इंदु देवी की पुत्री कृपा कुमारी से हुई।

परसिया गांव में बारात निकलते से पहले परिजनों के साथ फोटो खिंचवाता दूल्हा।
परसिया गांव में बारात निकलते से पहले परिजनों के साथ फोटो खिंचवाता दूल्हा।

दहेज मुक्त शादी कर दिया संदेश

दूल्हे राजू ने बताया, 'शादी में दहेज नहीं ले रहा है। दहेज कुप्रथा के कारण गरीब परिवार की लड़कियों की शादी में अड़चन आती है। इस शादी के जरिए राज्य सरकार के दहेज मुक्त शादी के आह्वान का समर्थन करते हुए समाज को संदेश देना चाहता था। ताकि दहेज के अभाव में लड़कियों की शादी बाधित न हो।'

DM की अनुमति के बाद गांव से उड़ा हेलीकॉप्टर

इस संबंध में DM के OSD सह DCLR देवेन्द्र प्रताप शाही ने बताया, 'दूल्हा के परिजनों ने हेलीकॉप्टर लैडिंग की अनुमति के लिए आवेदन दिया था। इसके बाद स्थानीय अधिकारियों से जांच के बाद सारी गाइडलाइन का पालन करते हुए अनुमति दी गई।'

दियरांचल में पहली बार हेलीकॉप्टर से ससुराल गया दूल्हा

राजू तिवारी की शादी इतिहास बन गया है। यह पहला मौका है जब दियरांचल का कोई दूल्हा हेलीकॉप्टर से शादी करने ससुराल पहुंचा। इसके पहले पूर्व विधायक ददन पहलवान के पुत्र भी हेलीकॉप्टर से अपने ससुराल गए थे।