पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बंदियों ने किया समर्पण:ब्लेड से हथकड़ी का रस्सा काट कर फरार होने वाले बंदियों ने कोर्ट में किया समर्पण

बक्सर2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 10 जनवरी को साथी बंदी के संग फरार हुआ था पांडेयपट्टी के चौकीदार का बेटा

कोर्ट में पेशी के बाद जेल भेजने से पहले हथकड़ी की रस्सी काटकर भागने वाले बंदियों ने कोर्ट में सरेंडर कर दिया। गौरतलब है कि बीते 10 जनवरी को कोर्ट कैम्पस के बाहर से हथकड़ी का रस्सा काट दो बंदी फरार हो गए थे। दोनों बंदियों ने बुधवार की शाम कोर्ट पहुंचकर सरेंडर कर दिया। फरारियाें में पांडेयपट्टी के चौकीदार का पुत्र भी शामिल था। हालांकि पुलिस ने दोनों को पकड़ने के लिए कायदे से जाल बिछा रखा था। रात से ही पुलिस दोनों के पीछे लगी थी, लेकिन अंततः सफल नहीं हो सकी।

फिर से पुलिस को चकमा देते हुए पहुंच गए कोर्ट

दोनों बंदियों ने पुलिस को एकबार फिर चकमा देते हुए कोर्ट पहुंच खुद को कानून के हवाले कर दिया। बता दें कि बीते रविवार की शाम पेशी के बाद बिक्रमगंज ले जाने के क्रम में बंदी उपेंद्र यादव और मनि कुमार हथकड़ी का रस्सा काटकर फरार हो गए थे। उपेंद्र यादव पांडेयपट्टी के चौकीदार मंदिर सिंह का बेटा है, जबकि मनि बाजार समिति निवासी राजेंद्र चौधरी का पुत्र है।

दोनों बीते शनिवार की शाम 345 बोतल शराब के साथ पकड़े गए थे। मामले में पुलिस कप्तान नीरज सिंह ने तत्काल छापेमारी का निर्देश देते हुए सदर एसडीपीओ गोरख राम से 24 घंटे के अंदर जांच रिपोर्ट मांगी थी। इधर, पांडेयपट्टी के चौकीदार मंदिर सिंह को भी सस्पेंड कर दिया गया।

पुलिस कप्तान के चढ़े तेवर को देखते हुए पुलिस ने दोनों बंदियों की तलाश में खाक छाननी शुरू की। सूत्रों की मानें तो बीते मंगलवार की पूरी रात पुलिस दबिश देती रही। इसका नतीजा हुआ कि फरार होने वाले दोनों बंदियों ने बुधवार की दोपहर पुलिस को चकमा देते हुए कोर्ट में सरेंडर कर दिया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां आपके स्वाभिमान और आत्म बल को बढ़ाने में भरपूर योगदान दे रहे हैं। काम के प्रति समर्पण आपको नई उपलब्धियां हासिल करवाएगा। तथा कर्म और पुरुषार्थ के माध्यम से आप बेहतरीन सफलता...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...

  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser