पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शुभ संयोग:रोहिणी नक्षत्र में वर्धमान व सर्वार्थ सिद्धियोग का है शुभ संयोग

बक्सर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कार्तिक पूर्णिमा पर इस बार लगेगा साल का अंतिम चन्द्रग्रहण, भारत में नही लगेगा सूतक का
कार्तिक पूर्णिमा कल 30 नवंबर सोमवार को मनाई जाएगी। यह कार्तिक मास का सबसे आखिरी दिन होता है। पूर्णिमा, स्नान व दान के लिहाज से यह दिन बहुत महत्वपूर्ण होता है। इस दिन 9 रेखा सावा, रोहिणी नक्षत्र के साथ सर्वार्थ सिद्धि व वर्धमान योग का संयोग होने से कार्तिक पूर्णिमा पर ये शुभ संयोग और भी पावन बन रहा है। आचार्य आशुतोष पाण्डेय के अनुसार पूर्णिमा तिथि की शुरुआत 29 नवंबर को दोपहर 12:48 से प्रारंभ होकर 30 नवंबर सोमवार को दोपहर 3 बजे तक रहेगी। इस दिन दान और गंगा नदी में या तीर्थ पर स्नान करने से पूरे वर्ष का स्नान करने का फल मिलता है।
जल में गंगा जल मिलाकर करें स्नान
कोविड़ को लेकर प्रशासन के द्वारा सोशल डिस्टेंस का पालन करने के लिए आदेश दिया गया है। इसलिए भीड़ भाड़ से बचने के लिए घर पर ही जल में गंगा जल मिलाकर स्नान कर सकते है। इस दिन जब चंद्रमा आकाश में उदित होता है। उस समय चंद्रमा की 6 कृतिकाओं का पूजन करने से भगवान शिव प्रसन्न होते है। पूर्णिमा पर इस साल का चौथा और आखिरी उपछाया चंद्र ग्रहण लगने जा रहा है लेकिन इस ग्रहण में सभी शुभ कार्य होंगे। आचार्य प्रभंजन भारद्वाज के अनुसार भारत में चन्द्रग्रहण दिखाई नही देगा। जो चंद्रग्रहण दिखाई नही देता है। उसकी कोई मान्यता भी नही है। इसलिए इसका सूतक काल भी नही लगेगा।

भगवान विष्णु की विधि विधान करें पूजा : कार्तिक पूर्णिमा के दिन सूर्योदय से पहले यानी ब्रह्म मुहूर्त में उठकर स्नान कर लें। गंगा नदी, किसी तीर्थ या घर पर ही गंगा नदी का जल मिलाकर स्नान करें। भगवान विष्णु की विधि विधान से पूजा करें। श्री विष्णुसहस्त्रनाम का पाठ करें। घर में हवन पूजन करें। घी, अन्न या खाने की वस्तु दान करें। शाम के समय घर और घर के बाहर दीपक जलाएं। भगवान सत्‍यनारायण की कथा पढ़ें। सुनें और सुनाएं। भगवान विष्णु का ध्यान करते हुए मंदिर, पीपल, चौराहे या फिर नदी किनारे बड़ा दीपक भी जलाए।

कोविड़-19 के गाइडलाइन का होगा पुरी तरह पालन
^गृहमंत्रालय के द्वारा जारी किए गए गाइडलाइन का कार्तिक पूर्णिमा पर भी लागू होगा। मास्क का उपयोग, छः फीट की दूरी सहित अन्य दिशा निर्देश का पालन करना जरूरी होगा। 60 वर्ष से उपर के व्यक्ति तथा 10 साल के नीचे के बच्चे, बुखार से पीड़ित, बीमार व्यक्ति स्नान करने न जाएं। अब तक देव दीपावली को लेकर कोई परमिशन नहीं दिया गया है।
केके उपाध्याय, एसडीओ बक्सर

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई लाभदायक यात्रा संपन्न हो सकती है। अत्यधिक व्यस्तता के कारण घर पर तो समय व्यतीत नहीं कर पाएंगे, परंतु अपने बहुत से महत्वपूर्ण काम निपटाने में सफल होंगे। कोई भूमि संबंधी लाभ भी होने के य...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser