पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सख्ती:संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए सभी को 15 मई तक घरों में रहना होगा : सीएस

बक्सरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिला प्रशासन व स्वास्थ्य समिति ने जिलेवासियों से की लॉकडाउन के नियमों का पालन करने की अपील

कोरोना वायरस को समाप्त करने व उसकी चेन को तोड़ने के लिए राज्य सरकार के निर्देश पर जिले में लॉकडाउन लागू कर दिया गया है। जिलाधिकारी अमन समीर व एसपी नीरज कुमार सिंह के निर्देश पर सभी प्रखंडों में सख्ती बरती जा रही है। लोगों को घरों में रखने के लिए प्रशासनिक अधिकारियों के साथ साथ पुलिस बल सड़कों पर गश्त लगा रही है। । वहीं, इन सब के बीच कुछ लोग लापरवाही बरतने से बाज नहीं आ रहे हैं। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने लोगों से नियमों का पालन करते हुए घरों में रहने की अपील की है। समुदाय में कोरोना संक्रमण के चेन को तोड़ने और इस चिंताजनक हालात से उबरने के लिए सबसे महत्वपूर्ण और कारगर उपाय कोरोना अनुरूप आचरण का सख्ती से पालन करना ही है।

बेवजह घर से बाहर न निकलें
सिविल सर्जन डॉ. जितेंद्र नाथ ने बताया कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए शारीरिक दूरी ही सबसे बेहतर विकल्प है। जब तक अति आवश्यक न हो लोग घर से बाहर न निकलें । बाहर निकलने पर मास्क का प्रयोग जरूर करें, एक दूसरे से कम से कम 6 फीट (2 हाथ जितनी दूरी) की दूरी बनाए रखें। यहां तक घर में भी लोगों को इन नियमों का पालन करना होगा। कोरोना से बचने के लिए सुरक्षा के नियमों का पालन करें, घर से बाहर जाने के दौरान अपने साथ सैनिटाइजर रखें, आंख या मुंह छूने से पहले 20 से 40 सेकेंड के लिए हाथों को अच्छे से धोएं और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। मूल रूप से यह समझने की जरूरत है कि कोविड-19 अनुरूप आचरण अपनाकर ही स्वयं को कोरोना के संक्रमण से बचाया जा सकता है।

जागरूक बनें और अफवाहों से बचें
सिविल सर्जन ने कहा एक साल पूर्व कोरोना वायरस आया था। आज इसमें समय के साथ बदलाव हुए हैं। इसकी प्रकृति, इससे होने वाले नुकसान व उपचार को लेकर हर दिन नए तथ्य सामने आ रहे हैं| इस दौरान इस संक्रमण से जुड़े कई मिथक ने समुदाय को काफी परेशान कर रखा है। किसी भी रोग की प्रकृति, उससे होने वाले नुकसान और उससे सुरक्षित रहने के तरीकों की सही जानकारी होने से रोग को परास्त करने में बहुत आसानी होती है। अतः लोग अफवाहों पर ध्यान नहीं देकर विश्वस्त सूत्रों द्वारा दी गयी जानकारी और उपायों पर अमल करें और समय-समय पर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार तथा स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी कोविड़-19 गाइडलाइंस का सख्ती से अनुपालन करें। शारीरिक रोग प्रतिरोधक क्षमता किसी भी प्रकार के रोग से लड़ने में सहायक होता है|अतएव कोरोना को हराने के लिए पौष्टिक भोजन करें, भोजन में विटामिन सी की मात्रा बढ़ाएं। इस विकट परिस्थिति में अपना और अपने परिवार का मनोबल बनाए रखें और स्वस्थ रहें।

खबरें और भी हैं...