पंचायत चुनाव:आज आपकी बारी, वोट जरूर करें ताकि ‘मतदाता’ हारने न पाए

बक्सर2 महीने पहलेलेखक: मंगलेश तिवारी
  • कॉपी लिंक
  • सुबह 7 बजे से शाम 05 बजे तक चुन सकेंगे गांव की सरकार, कंट्रोल रूम में हर दो घंटे पर वोट की संख्या व मत प्रतिशत का देना होगा आंकड़ा

पंचायत चुनाव को लेकर आज राजपुर प्रखंड में वोटिंग होगी। आज आपकी बारी है। अब तक प्रचार में नेता अपनी बात कह रहे थे। उनका फैसला अब आपके हाथ है। आप मतदाता हैं। अपने लोकतंत्र, अपने गांव से प्यार करते हैं तो प्रत्याशियों से ज्यादा परख आपकी होनी है। याद रहे, वोट कम पड़े तो भी प्रत्याशियों के बीच जीत का फैसला हो जाएगा।

लेकिन यह मतदाताओं की हार होगी। किसी को दें, पर वोट जरूर दें। इस बार तो नोटा का भी विकल्प मौजूद नहीं है। जिले में द्वितीय चरण में शुरू होने वाला पंचायत चुनाव अब अंतिम दौर में है। बुधवार को मतदान शुरू होने के साथ ही द्वितीय चरण का चुनाव अभियान का 90 फिसदी चरण समाप्त हो जाएगा।

केवल अब मतगणना का चरण बाकी रहेगा। चुनाव कराने वाले कर्मी अपने अपने मतदान केन्द्रों पर पहुंच चुके हैं। भयमुक्त मतदान कराने को लेकर विभिन्न जिले के राजपुर प्रखंड के 19 पंचायतों में जिले के एसपी, डीएसपी समेत दर्जनों थानों की पुलिस के द्वारा फ्लैग मार्च किया जा चुका है।

संवेदनशील इलाकों में काफी संख्या में पुलिस बलों को तैनात किया गया है। जबकि अफवाह फैलाने वालों पर सोशल मीडिया के माध्यम से निगरानी की जाएगी। इसके लिए सभी साईबर सेनानी ग्रुपों को अलर्ट किया गया है। भयमुक्त, निष्पक्ष व शांतिपूर्ण मतदान कराने लेकर पुलिस बलों के साथ दण्डाधिकारी की तैनाती की गई है।

सुबह 7 से शाम 5 बजे तक कर सकेेंगे मतदान
बता दें कि राजपुर प्रखंड के सभी 19 पंचायतों में सुबह 07 बजे से मतदान शुरू हो जाएगा। इसके बाद प्रत्येक दो घंटे पर मतदान की संख्या तथा मतदान प्रतिशत का वितरण जिला कंट्रोल रूम को देना होगा। किसी भी प्रकार के शिकायत तथा चुनाव व मतदान संबंधित शिकायत के लिए 06183 223333 पर काॅल कर सकते हैं। वहीं शाम के 05 बजे मतदान समाप्त होगा। इसके बाद पी 1 व पी 2 इवीएम व मतपेटी का के साथ इवीएम कलेक्शन सेंटर पर पहुंचाएंगे।

मतदान केन्द्रों पर हथियार ले जाने पर होगी कार्रवाई
पूरे जिले में पंचायत चुनाव को लेकर धारा 144 लागू किया गया है। जिसके अनुसार आम आदमी पर किसी भी प्रकार के हथियार ले जाने पर पाबंदी लगाई गई है। राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार किसी भी प्रकार के सुरक्षा के अधिकारी वाले व्यक्ति मतदान केन्द्र व इसके 100 मीटर के दायरे में अस्त्र शस्त्र के साथ जाने पर पाबंदी लगा दी गयी है।

ईपिक नहीं है तो दिखाएं इन 15 में से कोई एक विकल्प
मतदान केन्द्र पर बिना ईपीक वाले मतदाताओं के पहचान के लिए राज्य निर्वाचन आयोग ने 15 दस्तावेजों की मंजूरी दी है। यदि आपके पास मतदाता पहचान पत्र नहीं रहे तो आप ▪︎आधार कार्ड, ▪︎फोटोयुक्त पेंशन दस्तावेज, ▪︎ मनरेगा द्वारा जाॅब कार्ड, ▪︎श्रम संसाधन विभाग द्वारा जारी स्मार्ट कार्ड, ▪︎राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर द्वारा जारी स्मार्ट कार्ड, ▪︎बैंक या डाकघर द्वारा जारी पासबुक, ▪︎पैन कार्ड, ▪︎डीएल, ▪︎राज्य या केंद्र सरकार के कर्मियों का फोटोयुक्त पहचान पत्र, ▪︎फोटोयुक्त विकलांगता पहचान पत्र, ▪︎शस्त्र लाइसेंस, ▪︎पासपोर्ट, ▪︎राज्य या केंद्र सरकार के कार्यालय, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम, स्थानीय निकाय या पब्लिक लिमिटेड कंपनियों द्वारा जारी फोटोयुक्त पहचान पत्र, ▪︎सांसदो व विधायकों व पार्षदों द्वारा जारी पहचान पत्र, ▪︎फोटोयुक्त सम्पत्ति दस्तावेज दिखाकर वोटिंग कर सकते हैं।

खबरें और भी हैं...