पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कृष्णाब्रह्म:टुड़ीगंज स्टेशन को आज भी फुटओवर ब्रिज का इंतजार

बक्सर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दानापुर-मुगलसराय रेल पर स्थित टूडीगंज स्टेशन है, जहां आजाद भारत के 73 वर्ष पुरे होने के बाद भी एक फुट ओवर बृज नही बन सका। जिसके कारण ट्रेन की चपेट में आने से अब तक सैकड़ों लोग बेमौत मर चुके है। परन्तु विभाग रेलवे की मानवता नहीं जग रही है। ओवर बृज के की मांग को लेकर कर दर्जनों बार यात्री कल्याण समिति धरना दे चुकी है। रेलवे के तत्कालीन जीएम ने फूटओवर ब्रिज निर्माण कराने की घोषणा की थी। लेकिन यह मामला घोषणा से आगे नहीं बढ़ पाया हैं। रेल प्रशासन की उपेक्षा से यात्रियों में आक्रोश बढ़ने लगा है। कोलकाता - दिल्ली मार्ग पर स्थित इस छोटे से रेलवे स्टेशन का निमार्ण एक सौ अनठावन वर्ष पूर्व हुआ था।

जिसको सन 1860-62 में ट्विनिंग साहब नामक एक अंग्रेज अफसर ने कराया था। तब वह कृष्णाब्रम्ह में रह क्षेत्रिय किसानों से जबर्दस्ती नील की खेती करवाता था। खुद के आने - जाने तथा नील को इस क्षेत्र से काेलकत्ता तक ढुलाई के लिए उसने इस स्टेशन की स्थापना कराई थी। आजाद भारत के 73 साल में टूडीगंज रेलवे स्टेशन डुमरांव, चैगाई, चक्की प्रखंड और यूपी के सटे गांवों को जोड़ता है।

इस इलाके के लोग टूडीगंज से अपना सफर शुरू करते हैं। रेल सूत्रों के अनुसार यहां से प्रतिदिन लगभग दो हजार यात्रियों का आना-जाना होता है। यह स्टेशन से रेलवे को प्रतिवर्ष साठ लाख रुपया राजस्व रेलवे को प्राप्त होती है। स्टेशन पर यात्रियों की सुरक्षा को लेकर कोई व्यवस्था नहीं है। अप में उतरने वाले यात्रियों को हर हाल में ट्रैक क्राॅस करना पड़ता है। रेहिया, सोवा और छतनवार सहित अन्य गांवों के लोगों को बाजार जाने के लिए लाइन क्राॅस करना पडता है।

खबरें और भी हैं...