पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

धरना-प्रदर्शन:पुल टूटने के बाद से चरपोखरी गांव के लोगों को बिजली का पोल पार कर करना पड़ता है आना-जाना, परेशानी

चरपोखरीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्रखण्ड के चरपोखरी गांव जाने वाला मलार नदी में बने पुल टूट जाने के बाद से अब तक नये पुल निर्माण कराये जाने की मांग ग्रामीणों द्वारा की जा रही है। लेकिन उनकी गुहार न प्रशासन सुन रहा और न जनप्रतिनिधि। आखिर में थक- हारकर ग्रामीणों ने खुद ही अपने जुगाड़ से नदी को पार करने के लिए बिजली का पोल रख रास्ता बना लिया है।

लेकिन इस पुल से दुर्घटना होने की आशंका बनी रहती है। स्थानीय जनप्रतिनिधियों द्वारा नदी पर पुल का निर्माण कराने की बात तो कही जा चुकी है। लेकिन उनका आश्वासन अभी तक धरातल पर नहीं उतरा। कई माह गुजर जाने के बाद भी पुल का निर्माण नही होना बता रहा है कि इस पुल से विभागीय अधिकारियों को कोई मतलब नहीं है। विभाग के अधिकारियों द्वारा पुल निर्माण को लेकर सर्वे तो किया गया, लेकिन अब तक पुल का

निर्माण शुरू नहीं हो पाया। जिसे लेकर ग्रामीणों में मायूसी छाई है।ग्रामीण विक्की सिंह, अमरजीत सिंह, अनीश सिंह, झुन्ना मालिक, बब्लू सिंह, शिव प्रताप सिंह, प्रिंस सिंह, सहित अन्य ने बताया कि सरकार व उसके नुमाइंदे जन सुविधाओं को लेकर फिक्रमंद नहीं हैं। इलाके के जनप्रतिनिधि कई माह से पुल निर्माण का वादा कर रहे हैं। लेकिन पुल का निर्माण नहीं हो पा रहा है। पुल नहीं रहने से सबसे ज्यादा दिक्कत स्कूली बच्चों को हो रही है। मोटरसाइकिल व कृषि कार्य हेतु वाहन नही जा पाती है। ग्रामीणों का कहना है कि पुल का निर्माण शीघ्र कराई जाए। अन्यथा बाध्य होकर धरना-प्रदर्शन किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...