छपरा में 13 लोगों की संदिग्ध स्थिति में मौत:परिजन बोले- शराब पीने से गई जान, प्रशासन का कहना है- ठंड के कारण हुई मौत

छपरा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मृतक के शव के पास रोते-बिलखते परिजन। - Dainik Bhaskar
मृतक के शव के पास रोते-बिलखते परिजन।

छपरा जिले के अमनौर और मकेर थाना क्षेत्र में 7 लोगों की संदेहास्पद मौत के बाद अब 6 और की मौत की खबर सामने आई है। मृतकों में मढ़ौरा के कर्णपुरा गांव के दो, कोल्हुआ के एक और जमालपुर के एक व्यक्ति शामिल है। ऐसे में अब मौतों की कुल संख्या 13 हो गई है। वहीं, स्थानीय अनुमंडल प्रशासन के अधिकारियों ने मृतकों के घर जाकर मामले की जानकारी प्राप्त की। इन 6 मौतों में भी परिजन शराब पीने से मौत की बात कर रहे हैं। वहीं प्रशासन ठंड के मौत की बात कह रहा है।

छपरा शराब कांड में मृतकों के नाम

  • कृष्णा महतो, ग्राम- परमानंद पुर, थाना- अमनौर, छपरा।
  • अनिल मिस्त्री, सीवान।
  • मो.ईसा, ग्राम- बसंतपुर, थाना- अमनौर, छपरा।
  • बिहारी राय, ग्राम- नंदन, मकेर थाने, छपरा।
  • रामनाथ राय, ग्राम- नरसिंह भानपुर, अमनौर थाना, छपरा।
  • भरत राय, ग्राम- नवकाढा, मकेर थाना, छपरा।
  • बरई सिंह, सर्वोदय बाज़ार, छपरा
  • भूलन मांझी, ग्राम- कोल्हुआ, मढ़ौरा थाना, छपरा।
  • जवाहिर महतो, ग्राम- कर्णपुरा गांव, मढ़ौरा थाना, छपरा।
  • राजेश शर्मा, ग्राम- जमालपुर, मढ़ौरा थाना, छपरा।
  • मुन्ना सिंह, ग्राम- जमालपुर, मढ़ौरा थाना, छपरा।
  • संभत महतो, ग्राम- अमनौर डीह, अमनौर थाना, छपरा।
  • बीरेंद्र ठाकुर, ग्राम- अमनौर डीह, अमनौर थाना, छपरा।

वहीं कर्णपुरा गांव के रविन्द्र गिरी की आंख की रोशनी गायब होने की शिकायत पर इलाजरत बताये जा रहे हैं।

प्रशासन ने टीम गठित कर मृतक के परिजनों से की मुलाकात

प्रशासन ने मृतक के घरवालों से बातचीत की। इस टीम ने मीडियाकर्मियों के समक्ष जांच पड़ताल की। साथ ही स्थानीय मुखिया और मुखिया संघ के अध्यक्ष के नेतृत्व में भी स्थानीय पंचायत प्रतिनिधियों ने भी मौके का मुआयना किया और ग्रामीणों से बातचीत की। बातचीत और जांच पड़ताल के बाद मढ़ौरा SDPO इंद्रजीत बैठा ने किसी की भी मौत जहरीली शराब से होने की बात से इनकार किया। साथ ही मुखिया संघ के अध्यक्ष ने भी बयान जारी कर शराब से हुई मौत को भ्रामक बताया।

मृतक के परिजनों से मुलाकात करने पहुंचे विधायक।
मृतक के परिजनों से मुलाकात करने पहुंचे विधायक।

कल बुजुर्ग की मौत के बाद मची थी खलबली

बुधवार शाम 5 बजे अमनौर थाना क्षेत्र के नरसिंह भानपुर गांव में रामनाथ राय नाम के एक बुजुर्ग की मौत हो गई थी। मृतक के परिजनों ने मौत का कारण शराब पीना बताया था। इसके बाद प्रशासन में खलबली मच गई। जिला प्रशासन ने मृतक रामनाथ राय के शव का मेडिकल बोर्ड बनाकर पोस्टमॉर्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया। जिलाधिकारी सारण राजेश मीणा ने बताया कि मृतक की मौत का कारण जहरीली शराब नहीं है। अभी तक प्रशासन के संज्ञान में किसी की भी मौत शराब पीने से नहीं हुई है।

दरौली विधायक ने मृतक के परिजनों से की मुलाकात

इस घटना की जानकारी पर सीवान के दरौली के CPI ML विधायक सत्यदेव राम ने रामनाथ राय सहित 7 मृतकों के परिजनों से मुलाकात की। परिजनों ने उनके समक्ष भी शराब के कारण ही मौत होने की बात कही। इस पर विधायक सत्यदेव राम ने प्रशासन और सरकार पर जमकर निशाना साधते हुए शराबबंदी को पूरी तरह फेल बताया। जहरीली शराब से हो रही मौत को रोकने में पूरी तरह असफल बताया।

खबरें और भी हैं...