सख्ती / बसों की छत पर बैठनेवालाें पर होगी कार्रवाई, बढ़ेगी पुलिस गश्ती

Action will be taken on those sitting on the roof of buses, police patrol will increase
X
Action will be taken on those sitting on the roof of buses, police patrol will increase

  • जिलाधिकारी ने जिलास्तरीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठठक में यातायात नियमों का पालन कराने पर दिया जोर

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

छपरा. डीएम सुब्रत कुमार सेन के द्वारा जिला स्तरीय सड़क सुरक्षा समिति की त्रैमासिक बैठक में कहा गया कि परिवहन विभाग एवं अन्य एजेंसियों सड़क मानकों का अनुपालन सुनिश्चित कराये। हेलमेट और सीट बेल्ट जांच के लिए विशेष अभियान चलाई जाये। उसके लिए न केवल शहरी क्षेत्र बल्कि सभी एनएच और एसएच पर पेट्रोलिंग की व्यवस्था करायी जाये।

बसों के उपर बैठने की व्यवस्था समाप्त होनी चाहिए। अगर ऐसा पाया जाय तो कठोर कार्रवाई की जाये। उसके लिए लाइसेंस सहित रजिस्ट्रेशन भी रद्द किया जाये। ध्यान देन की जरूरत होगी कि जब जांच अभियान चलाया जाता है तो प्रायः ओवरलोडेड गाड़िया गति और बढ़ाकर भागने की कोशिश करती है जिसमें दुर्घटना की संभावना बढ़ जाती है। ऐसा नहीं होना चाहिए। 
डीएम ने कहा कि स्कूली वाहन में भी क्षमता से अधिक बच्चों को बैठाया जाता है। जो नही होना चाहिए। इस संबंध में जिला शिक्षा पदाधिकारी को निर्देश दिया गया कि स्कूल खुलने पर विद्यालय संचालकों की बैठक कर जरुरी निर्देश दिया जाये। डीएम ने कहा कि वैसे विद्यालय जो मुख्य पथ पर या व्यस्त पथों के किनारे हैं वहां बच्चों के आने जाने के समय विद्यालय प्रबंधन मुस्तैदी से बच्चों का सड़क पार करायें। डीएम के द्वारा कहा गया कि चिन्हित 22 दुर्घटना बहुल क्षेत्रों या स्थानों (ब्लैक स्पॉट) का निरीक्षण कर स्थानीय लोगों से वहां दुर्घटना को रोकने के उपाय पर चर्चा करने का निर्देश दिया गया।

डीएम ने कहा कि दुर्घटना ग्रस्त व्यक्ति को त्वरित सहायता के लिए लोगों को आगे आना चाहिए। उनके एक प्रयास से किसी की जिंदगी बचायी जा सकती है। बैठक में डीएम के साथ अनुमंडल पदाधिकारी सदर  अभिलाषा शर्मा, जिला परिवहन पदाधिकारी, जिला शिक्षा पदाधिकारी, डीएसपी मुख्यालय, सिविल सर्जन, मोटरयान निरीक्षक एवं समिति के अन्य सदस्य उपस्थित थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना