अधूरा रह गया आशियाना का सपना:छपरा में वर्षों से जमा करके रखे रुपये अगलगी में हुआ स्वाहा, घर बनाने के लिए वर्षो से जमा रखे थे रुपये

छपराएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
घर बनाने के लिए वर्षों से जमा करके रखे रुपये हुआ नष्ट। - Dainik Bhaskar
घर बनाने के लिए वर्षों से जमा करके रखे रुपये हुआ नष्ट।

छपरा के पानापुर थाना क्षेत्र के बकवा गांव में मंगलवार सुबह शार्ट सर्किट लगने के कारण कई घर जलकर राख हो गए। इस दौरान नकदी के अलावे लाखों रुपये मूल्य के सामान जलकर खाक हो गए। पीड़ितों में शारदा देवी ,बीरेंद्र ठाकुर, सीताराम ठाकुर एवं टुन्ना ठाकुर शामिल है।

दरअसल, मंगलवार सुबह 4 बजे के आसपास शार्ट सर्किट के कारण विद्युत प्रवाहित तार टूटकर शारदा देवी के झोपड़ीनुमा घर पर गिर गया। वही से आग लगना शुरू हुआ और देखते ही देखते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। इस दौरान बीरेंद्र ठाकुर, सीताराम ठाकुर एवं टुन्ना ठाकुर के घरों को भी अपनी आगोश में ले लिया। अहले सुबह होने के चलते जब तक लोग इक्कठा होते तब तक बहुत कुछ जलकर नष्ट हो गया था।

घर बनाने के लिए वर्षों से जमा करके रखे रुपये हुआ नष्ट

पानापुर के बकवां में आगलगी में शारदा देवी के सपने भी जलकर राख हो गए। शारदा देवी घर का छत ढलाई के लिए वर्षो से इक्कठा करके रखे जमापूंजी भी आग में स्वाहा हो गया। वर्षो से मेहनत मजदूरी कर घर बनाने का सपना पीला शारदा देवी ढाई लाख रुपये इक्कठा करके रखी हुई थी। जमापूंजी जलाने के बाद बिलखते हुए शारदा देवी ने बताया कि हमारे जीवन का जमापूंजी आगलगी में जलकर राख हो गया। हाल में ही घर का छत ढलाई करवाना था। अब खुले आसमान में सोना पड़ेगा।

आगलगी में बड़ी घटना होने से बच गई। ठंड के मौसम में सुबह का समय होने से सभी लोग गहरे नींद में सोये हुए थे। तभी अचानक आग लग गई। घटना के समय गहरी नींद में सोये घरवालों ने किसी तरह भागकर अपनी जान बचाई। घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय थाने से फायर ब्रिगेड की गाड़ी मौके पर पहुँची एवं घंटो मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया।

हालांकि तब तक सबकुछ जलकर खाक हो चुका था। अगलगी की इस घटना में शारदा देवी के ढाई लाख रुपये नकद जलकर खाक हो गए, जिसे उन्होंने छत की ढ़लाई के लिए इकट्ठे किया था। इसके अलावे तीन मोबाइल ,तीन साइकिल सहित गहने ,कपड़े ,सरकारी कागजात भी जल गए। वहीं, सीताराम ठाकुर के पन्द्रह हजार रुपये नकद के अलावे अन्य सामान जल गए जबकि एक बकरी की भी झूलस कर मौत हो गयी ।