छपरा में छात्रों और कुलपति के बीच बहस:अंकपत्र में गड़बड़ी को लेकर धरना दे रहा छात्र संघ, छात्राओं ने कहा- हमारे पैसे से आपको वेतन मिलता है, VC बोले- सच कहना बगावत

छपरा3 महीने पहले
छपरा में छात्रों और कुलपति के बीच बहस।

जय प्रकाश विश्वविद्यालय छपरा का विवादों से पुराना नाता रहा है। जिसको लेकर तमाम खबरें प्रकाश में आती रही है। ताजा मामला कुलपति और छात्र नेताओं के बीच नोकझोंक और गर्मागर्मी बहस का है। अंकपत्र में गड़बड़ी को लेकर विश्वविद्यालय परिसर में धरना दे रहे छात्रों से मिलने आये कुलपति का जबरदस्त नोकझोंक हो गया। छात्रों का आरोप था कि विश्वविद्यालय कर्मचारियों द्वारा लापरवाही कर हजारों छात्र छात्राओं के जीवन के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। छात्र नेता और कुलपति अपने अपने पक्ष को रखते हुए तल्ख हो गए जिसके बाद विवाद बढ़ता चला गया।

अंकपत्र में गड़बड़ी को लेकर धरना दे रहा छात्र संघ

धरना प्रदर्शन कर रहे छात्रों का आरोप है कि स्नातक प्रथम खंड सत्र 2019- 22 एवं स्नातक प्रथम खंड स्पेशल का रिजल्ट प्रकाशन 1 माह पूर्व हो गया था। संगठन के द्वारा जब अंकपत्र की हार्ड कॉपी की मांग की गई तो विश्वविद्यालय प्रबंधन द्वारा अनदेखा किया गया। आंदोलन करने पर प्रबंधन द्वारा ऑनलाइन जारी किया गया। उसमें भी कई तरह के दांव पेंच लगाया गया । स्नातक प्रथम खंड सत्र 2019 -22 का अंकपत्र ऑनलाइन जारी किया गया ।

उसमें भी भारी गड़बड़ी की गई ।अंकपत्र में जिसको फेल होना चाहिए उसको पास दिखाया जा रहा है जबकि जिसको पास होना चाहिए उसको फेल दिखा रहा है। अभी तक स्नातक प्रथम खंड स्पेशल परीक्षा का अंकपत्र वेबसाइट पर लोड नहीं किया गया ।जिसके कारण स्नातक तृतीय खंड का परीक्षा प्रपत्र नहीं भर पा रहा है । स्नातक, स्नातकोत्तर का सत्र लेट होने का कारण यू एम आई एस है ।

कुलपति और छात्र नेताओं के बकझक का वीडियो हो रहा वायरल

विश्वविद्यालय परिसर में धरना कर रहे छात्र नेता और कुलपति के बीच तीखी बहस का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है । छात्रों ने वीसी पर आरोप लगाते हुए कहा रहे है कि हमलोगों के पैसा से आपको वेतन मिलता है जबकि वीसी खुद को जयप्रकाश का अनुयायी होने के साथ सच करने को बगावत कह रहे है।

खबरें और भी हैं...