पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

छठ महापर्व:92 खतरनाक घाटों पर गोताखोरों को किया गया तैनात, मजिस्ट्रेट और जवान भी रहेंगे

छपरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • घाटों को सेनेटाइज करने के लिए अधिकारियों को दी गई जिम्मेवारी, मास्क लगाना होगा अनिवार्य

लोक आस्था का महापर्व छठ प्रारंभ हो गया। आज खरना है। 20 व 21 नवंबर को अर्घ्य है। छठ को लेकर इस बार एहतियात बरतने के तौर पर डीएम व एसपी ने संयुक्त आदेश जारी किया है। इस बार प्रखंडवार खतरनाक घाटों की सूची जारी की गई है। वहां एसडीआरएफ और एनडीआरएफ की तैनाती की गई है। विशेष पुलिस बल की तैनाती की गई है। डीएम सुब्रत कुमार सेन व एसपी धूरत शायली ने जानकारी देते हुए बताया कि संक्रमण से बचने के लिए इस बार राज्य व केंद्र सरकार द्वारा जारी निर्देशों का अनुपालन कराना आवश्यक है।

डीएम व एसपी ने आम जनों को अपने घर पर ही छठ पर्व मनाने की अपील की। फिर भी एहतियात के तौर पर पर्व के दौरान संभावित दुर्घटना व आपदा की रोकथाम के लिए विधि व्यवस्था बनाए रखने के लिए आदेश जारी किए गए। डीएम ने सभी एसडीओ व पुलिस पदाधिकारियों को आदेश दिया कि कोरोना संक्रमण की रोकथाम के उद्देश्य इस बार जनसाधारण को अपने घर में ही पूजा-अर्चना और अर्घ्य दें।

कोरोना से बचने के लिए जारी गाइडलाइन का करना होगा पालन

घाटों पर सोशल डिस्टेंश का पालन करना है जरूरी
साथ ही छठ पूजा आयोजकों और प्रशासन के स्तर से घाटों को सैनिटाइज करने तथा सैनिटाइजर का व्यवस्था रखने का निर्देश दिया गया। इस दौरान डीएम ने शहर के राजेन्द्र सरोवर घाट का जायजा भी लिया। जहां पर नगर आयुक्त समेत अन्य अफसर मौजूद थे। वहां पर सेनेटाइजर की प्रबंध करने को कहा गया।

सात स्थलों पर बनाया जाएगा नियंत्रण कक्ष
छपरा सारण जिले में करीब 280 घाट है। जहां पर हर साल छठ होता है। इसमें 40 घाटों पर बड़ी संख्या में छठ व्रती आते हैं। करीब 92 घाट खतरनाक है। 206 जगह पर दण्डाधिकारी एवं पुलिस बल को प्रतिनियुक्ति किया जाता है। इसको लेकर डीएम व एसपी का संयुक्त आदेश निकाला गया। करीब सात स्थलों पर नियंत्रण कक्ष बनाया जायेगा ताकि किसी भी आकस्मिक स्थिति से निपटा जा सके। एसडीआरएफ की टीम आ गयी है।

इन छठ घाटों पर छठव्रतियों को रहना होगा सतर्क, दिक्कत हो तो प्रशासनिक अधिकारियों से मांगें मदद
नगर थाना क्षेत्र रावल टोला घाट, रौजा घाट, साहेबगंज घाट,सोनारपट्‌टी घाट, राजेंद्र पोखरा घाट, रेलवे ढाला घाट, मुफस्सिल थाना क्षेत्र के खलपुरा घाट, बसी गांव पोखर घाट,भगवान बाजार थाना क्षेत्र के नवीगंज घाट, ब्रम्हपुर घाट, दौलतगंज घाट, रिविलगंज थाना क्षेत्र के नाथ बाबा घाट, रिविलगंज घाट, सेमरिया घाट तथा मांझी प्रखंड में रामघाट मांझी चही घाट, डुमाई गढ़ घाट,पानापुर में बड़बसहिया घाट,सारंगपुर घाट, पृथ्वीपुर घाट, मथुरापुर घाट,अमनौर में माही नदी घाट,परसौनी नदी घाट,जनता बाजार में ढ़ोढ़ स्थान मंदिर के पास हरपुर कोठी घाट,परसा में बनकेरवा नदी घाट,परसौना घाट,बलिगांव घाट,लोहिया नदी समेत सोनपुर में सबलपुर,काली,पुराना गंडक घाट,पहलेजा घाट,छितरचक घाट और नया गांव में कल्लू घाट,डोमना घाट,बाजितपुर घाट,दरियापुर में शीतलपुर कोठी,हरवा,नगरपाल घाट,दिघावारा में इशोपुर और इशुपुर,बगही घाट समेत कुल 92 खतरनाक घाट चिन्हित किया गया है। परेशानी होने पर प्रशासनिक अधिकारियों व्रतियां मदद मांग सकते हैं।

चचरी पुल का नहीं होगा निर्माण
सभी प्रखंड के अधिकारियों को छठ घाटों की पूरी तरह से सफाई कराने तथा मुख्य मार्ग और घाट तक जाने वाले पद को दुरुस्त करने का निर्देश दिया गया। कहीं भी चचरी का निर्माण नहीं कराया जाएगा। जिससे कोई अनहोनी हो सके सभी अनुमंडल पदाधिकारी तथा अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी एवं प्रखंड विकास पदाधिकारी अंचलाधिकारी के साथ बैठक कर पुलिस बल की तैनाती करने का निर्देश दिया गया है।
रेलवे किनारे घाटों पर विशेष प्रबंध
अर्घ्य दिए जाने वाले स्थलों पर 20 नवंबर को 12:30 बजे दोपहर से लेकर 21 नवंबर की दोपहर तक अधिकारियों व पुलिस अफसरों की तैनाती की गई है। यदि कोई छठ घाट रेलवे लाइन के किनारे स्थित है तो वहां पर संबंधित रेलवे स्टेशन से समन्वय स्थापित कर रेलगाड़ियों का परिचालन नियंत्रित करने के लिए निर्देश दिए गए हैं। छठ पर्व के दौरान अत्यधिक भीड़ का लाभ उठाकर असामाजिक तत्वों द्वारा विधि व्यवस्था भंग करने की कोशिश की जाती है
वाहनों से घाटों तक जाने पर रोक
इसके साथ ही आम जनों को अपने-अपने घरों में क्या क्षेत्र में रहकर ही छठ व्रत करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। छठ व्रती निजी वाहनों से सारण जिला की सीमा में स्थित घाटों पर ही जाएं, यह अपील की गई है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- जिस काम के लिए आप पिछले कुछ समय से प्रयासरत थे, उस कार्य के लिए कोई उचित संपर्क मिल जाएगा। बातचीत के माध्यम से आप कई मसलों का हल व समाधान खोज लेंगे। किसी जरूरतमंद मित्र की सहायता करने से आपको...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser