छपरा में फर्जी पुलिस बकरी चुराकर हुआ फरार:शराब के नाम पर कर रहे थे छापेमारी, कुछ नहीं मिला तो ले गए बकरी

छपरा9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पीड़ित परिवार। - Dainik Bhaskar
पीड़ित परिवार।

छपरा में सोमवार देर रात्रि परसा रोड स्थित दलित बस्ती में एक गाड़ी पर सवार लोग पुलिस बनकर लालमोहर राम के घर दस्तक देने पहुंचे थे। जहां दरवाजा खुलने के बाद अपने आप को एकमा थानाध्यक्ष बताते हुए बदमाशों ने पहले तो शराब होने के नाम पर घर की तलाशी ली और जाते वक्त उनकी बकरी साथ लेकर चले गए। फिर फर्जी पुलिस ने बगल के मोतीलाल राम का दरवाजा भी खट-खटाया। लेकिन जब किसी ने दरवाजा नहीं खोला तो दरवाजे तोड़ने का प्रयास भी किया। लेकिन वे असफल रहे।

इधर, देर रात्रि शराब के नाम पर छापेमारी और दरवाजे तोड़ने के मामले में संदेह प्रतीत होते की पीड़ित लोग जांच के लिए एकमा थाना में पहुचने का मन बनाया। मंगलवार के दोपहर पीड़ित लालमोहर ने एकमा थाना पहुँच कर पुलिस को इस बाबत जानकारी दी तो पुलिस भी हतप्रभ हो गयी।

इस तरह के मामले को लेकर स्थानीय एकमा थाना की पुलिस हतप्रभ हैं।फर्जी लोगो द्वारा पुलिस के रूप में छापेमारी करना चर्चा का विषय बना हुआ है। फ़िलहाल पुलिस ने मौके पर पहुँच स्थिति का जायजा लिया और तहकीकात में जूट गयी।स्थानीय लोगों का मानना है कि नया साल का आगमन है और पिकनिक मनाने के लिए शरारती तत्वों ने शरारत की है।