पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बूथों के भौतिक सत्यापन में आया सामने:3 वार्डों को निगली गंगा, 3.5 हजार लोगों ने किया पलायन

छपरा22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जैसे-जैसे पंचायत आम चुनाव नजदीक आ रहा है, वैसे-वैस ग्रामीण क्षेत्रों में राजनीतिक सरगर्मी तेज हो रही है। समान्यत: देखने को मिल रहा है कि पंचायतों के जनप्रतिनिधि भी पूरी तरह से चुनावी मूड में आ गये है। बिहार चुनाव आयोग द्वारा पंचायत आम निर्वाचन को लेकर अभी अधिसूचना जारी नहीं की गई है। फिर भी पंचायत आम निर्वाचन को निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने को लेकर जिला प्रशासन अभी से तैयारी जुट गई है। इस दौरान जिले के सभी बूथों के भौतिक सत्यापन में सामने आया है कि सारण के तीन वार्ड अस्तित्व में ही नहीं हैं।

बाढ़ के दौरान गंगा नदी के कटाव में तीन वार्ड विलुप्त हो गया है। जानकारी के अनुसार जिले में करीब 4580 वार्ड थे, लेकिन बाढ़ के दौरान जिले के सोनपुर प्रखंड के गंगाजल पंचायत के वार्ड संख्या 11, 12, 13 बाढ़ के कटाव में गंगा के गाल में समा गया। इस वार्ड के करीब तीन हजार आबादी भी पलायन कर गये है। जिससे ये वार्ड अस्तित्व में नहीं है। इसके बाद अब वर्तमान में करीब 4577 वार्ड है। ऐसे में इन वार्डों में पंचायत चुनाव के दौरान न हीं बूथ होगा और न हीं चुनाव होगा। इस सूरत में पंचायत चुनाव के दौरान वार्ड स्तर पर बनने वाले 4577 बूथों पर हीं मतदान संपन्न कराए जाने की उम्मीद है। इससे गंगाजल पंचायत में शेष बचे वार्ड में ही चुनाव संपन्न कराया जाएगा। जानकारों की माने तो स्थानीय प्रतिनिधि भी वार्ड संख्या 11, 112, 13 को छोड़कर ही चुनाव की तैयारी कर रहे है। हालांकि पंचायत चुनाव को लेकर गंगाजल पंचायत में नये सिरे से परिसीमन होने की संभावन नहीं दिख रहा है।

वर्तमान मुखिया के घर से 100 मीटर के अंदर नहीं होंगे बूथ| भौतिक सत्यापन के दौरान अधिकारियों को कई महत्वपूर्ण निर्देश दिया गया था। स्पष्ट निर्देश दिया गया था कि भौतिक सत्यापन के दौरान अधिकारी ये ध्यान देंगे की वर्तमान मुखिया के घर के 100 मीटर की दूरी में कोई बूथ नहीं होना चाहिए। वर्तमान मुखिया के घर के 100 मीटर की दूरी के अंदर मतदान केन्द्र नहीं बनाया जाएगा।

अधिकारियों ने बूथों का सत्यापन प्रतिवेदन जिला प्रशासन को भेजा

पंचायत चुनाव को लेकर जिले में वार्डस्तर पर बनने वाले मतदान केन्द्रों का अधिकारियों द्वारा सत्यापन कराया गया है। बूथों के सत्यापन के दौरान कई बिन्दुओं पर जांच की गयी है। अधिकारियों से बूथ जर्जर या ध्वस्त भवन में नहीं है, मतदान केन्द्र किसी धार्मिक स्थल, थाना, अस्पताल में नहीं होना चाहिए, निजी भवन में मतदान केन्द्र नहीं हो, बूथ प्रादेशिक निर्वाचन क्षेत्र से बाहर नहीं होना चाहिए, चलंत बूथ के स्थान पर कोई भवन तो नहीं बना है, मतदाताओं को बूथ पर पहुंचने के लिए दो किमी से अधिक दूरी तक जाना पड़ता है तथा लोग निर्भय होकर आ जा सकते है अथवा नहीं सहित अन्य बिन्दुओं से प्रतिवेदन मांगा गया था। अधिकारियों ने बूथों का सत्यापन प्रतिवेदन जिला प्रशासन को भेजा है।

सभी प्रखंडों ने मतदाता सूची का निर्वाचन क्षेत्र संख्या िदया

पंचायत चुनाव को ध्यान में रखते हुए जिला प्रशासन एक्टिव हो गया है। मतदाता सूची के प्रारूप प्रकाशन के बाद वोटरों की संख्या एवं मतदाता सूची में अंकित प्रादेशिक निर्वाचन क्षेत्र संख्या काे सत्यापित करने को लेकर जिले के सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को चेक लिस्ट भेजने का निर्देश दिया गया था। जिसके आलोक में जिले के सभी 20 प्रखंडों के बीडीओ ने मतदाता सूची की गहनता से अवलोकन कर वार्ड स्तर पर प्रादेशिक निर्वाचन क्षेत्र संख्या और मतदाताओं की संख्या का चेक लिस्ट तैयार कर संबंधित एसडीएम एवं जिला पंचायत राज पदाधिकारी को प्रतिवेदन भेजा गया है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप प्रत्येक कार्य को उचित तथा सुचारु रूप से करने में सक्षम रहेंगे। सिर्फ कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा अवश्य बना लें। आपके इन गुणों की वजह से आज आपको कोई विशेष उपलब्धि भी हासिल होगी।...

    और पढ़ें