धूप नहीं निकली:बूंदाबांदी व पछिया हवा चलने से कनकनी बढ़ी, कुहासा और ठंड से नहीं मिली राहत

छपरा8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सुबह से एक बार फिर चली पछिया हवा, 3 से 4 दिनों में मौसम के सामान्य होने का है अनुमान

दो दिनों से हुई बूंदाबांदी और अल सुबह से 5.4 किलोमीटर की रफ्तार से चल रही पछिया हवा ने एकबार पुन: कनकनी बढ़ा दी है। सुबह कुछ देर कुहासा रहने के बाद धूप खिली लेकिन पछिया हवा के कारण धूप में भी लोग ठंड का एहसास कर रहे थे। हालांकि आठ बजे तक धूप भी निकल आई। जिससे राहत मिली। शाम करीब 4 बजे के बाद तक धूप जाती रही। जिसके बाद मध्यम कुहासा के कारण साढे पांच बजे के आसपास अंधेरा छा गया। आज का अधिकतम तापमान 22.04 डिग्री रिकार्ड किया गया। जबकि न्यूनतम तापमान 11 डिग्री रिकार्ड किया गया, जो समान्य से करीब 3 डिग्री अधिक है।

मौसम विभाग के वैज्ञानिकों के अनुसार बारिश के बाद पछिया हवा चलने से कनकनी बढ़ी है। न्यूनतम तापमान 8-10 के बीच में रह सकता है। अधिकतम तापमान 20-22 डिग्री के बीच रहेगी। आसमान में बादल छाये रहने से वैसे ठंड नहीं होगी। कुहासा भी सुबह व शाम के समय हल्का से मध्यम रहेगा। तीन चार दिनों के बाद ठंड समान्य हो जाएगी। कृषि वैज्ञानिक की माने तो इस बार वैसे ठंड पड़ी नहीं कुहासा भी नहीं लग रहा है। अब आगे भी कुहासा व वैसी ठंड की संभावना बहुत कम है। ऐसी स्थिति गेहूं के दाने का विकास नहीं हो पाएगा। जिसका असर उपज पर पडे़गा। उन्होंने कहा कि मौसम गर्म रहने के कारण गेहूं के पौधे जल्द बड़े हो जाएंगे।

तापमान में बढ़ोत्तरी का अनुमान
बारिश हुई न्यूनतम और अधिकतम तापमान में फिर से गिरावट आ गई। अभी 3 से 4 दिनों तक न्यूनतम और अधिकतम तापमान में बढ़ोतरी होने की संभावना नहीं है। ठंड का असर ज्यादा होने से दैनिक दिनचर्या पर भी असर पड़ रहा है। लोग आवश्यक कार्य से भी लोग घरों से बाहर निकलने में परहेज कर रहे हैं। ग्रामीण इलाकों से भी लोग कम संख्या में शहर आए जो लोग आए हुए थे। वे जल्द ही अपने काम निपटा कर शाम होते हैं घरों के लिए लौट गए। इससे शाम 5:00 बजे के बाद शहर की सड़कों पर लोगों की कमी हो गई। शहरी क्षेत्र के लोग भी शाम होते ही अपने घरों में चले गए।

खबरें और भी हैं...