पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

त्योहार:मकर संक्रांति 14 को, सूर्योदय से सूर्यास्त तक पुण्यकाल

छपरा7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • इस बार संक्रांति सिंह पर सवार होकर वैश्य के घर में प्रवेश कर रही, इस दिन फलादेश भी देखा जाता है

सारण ज़िला के ब्राह्मणों और विद्वतजनों का मानना है कि इस बार मकर संक्रांति 14 जनवरी को मनाई जाएगी। मकर संक्रांति को लेकर कुछ भ्रम फैलाया जा रहा है कि 15 को संक्रांति होगा जबकि विद्वतजनो और जिला का प्रकांड विद्वान कर्मकांडी पंडित राकेश मिश्रा ,हरे राम शास्त्री और ब्राह्मण महासभा के अध्यक्ष विवेकानंद तिवारी का मत है कि इस बार मकर राशि पर सूर्य का संक्रमण 14 जनवरी को 2 बजकर 3 मिनट पर हो रहा है।

निर्णय सिंधु में वर्णित तथ्यों के अनुसार यह कहा गया है कि सूर्यास्त से पहले ही संक्रांति होती है तो उभयमत में पूर्व ही पुण्यकाल होता है। इसके अनुसार 14 जनवरी को ही मकर संक्रांति मनाया जाएगा और उससे संबंधित दान पुण्य का कार्य किया जा सकता है।

8.15 बजे सूर्य मकर राशि में प्रवेश करेंगे

सूर्य के मकर राशि में प्रवेश करने का पर्व मकर सक्रांति 14 जनवरी को मनाई जाएगी। सुबह 8.15 बजे सूर्य मकर राशि में प्रवेश करेंगे। मकर संक्रांति का पुण्यकाल सूर्योदय से पूरे दिन सूर्यास्त तक रहेगा। सूर्योदय सुबह 7.21 पर तथा सूर्यास्त सायंकाल 5.50 पर होगा। मकर संक्रांति से सालभर के संवत का फलादेश भी देखा जाता है। इस बार संक्रांति सिंह पर सवार होकर वैश्य के घर में प्रवेश कर रही है। संक्रांति का उप वाहन हाथी है।

संक्राति पर सूर्य को 3 बार जल अर्पित करें

यह संक्रांति देव जाति की है। शरीर पर कस्तूरी का लेप और सफेद रंग के वस्त्र पुन्नाग पुष्प की माला तथा हाथ में भुशुंडि शस्त्र धारण करके सोने के बर्तन में भोजन करती हुई बैठी हुई है। दिन के प्रथम भाग में बालक के रूप में प्रवेश कर रही है।

इस बार बन रहा है पांच ग्राही योग

ज्योतिषियाेंं के अनुसार सूर्य के राशि प्रवेश के समय बनाने वाली संक्रांति कुंडली से 30 दिनों के राजनीतिक, सामाजिक व आर्थिक परिवेश के विषय में फल कथन किया जाता है। सूर्य एक वर्ष में 12 राशियों में भ्रमण करते हैं। मकर, मेष, कर्क और तुला राशि में सूर्य के प्रवेश के समय की कुंडली महत्वपूर्ण होती है। सूर्य के मकर राशि में प्रवेश संक्रांति के समय सूर्य सहित चंद्रमा, बुध, गुरु व शनि पांच ग्राही योग बन रहा है।

संक्रांति का राशियों पर शुभ-अशुभ फल

मेष, कर्क, वृश्चिक राशि के लिए तांबा श्रेष्ठ फलदायी है। वृष, कन्या, धनु राशि के जातकों के लिए चांदी का पाया होने से सर्वश्रेष्ठ फलदायक है। मिथुन, तुला, कुंभ राशि वालों के लोहा का पाया होने के कारण मध्यम फलदायक है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां आपको कई सुअवसर प्रदान करने वाली हैं। इनका भरपूर सम्मान करें। कहीं पूंजी निवेश करने के लिए सोच रहे हैं तो तुरंत कर दीजिए। भाइयों अथवा निकट संबंधी के साथ कुछ लाभकारी योजना...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser