पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Chhapra
  • Pappu Yadav: 24 Ambulances Are Standing In Amanour, Why The Government And The System Is Not Taking Service In Rudy: Kovid Is Not Operating Pappuji Driver And Bring An Ambulance

कोरोना की वजह से सभी का बुरा हाल:पप्पू यादव: अमनौर में 24 एम्बुलेंस खड़ी है सरकार और सिस्टम सेवा में क्यों नहीं ले रहीरूडी: कोविड के कारण नहीं हो रहा परिचालन पप्पूजी ड्राइवर लाइए और एम्बुलेंस चलवाइए

छपराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • एंबुलेंस को लेकर पूर्व सांसद पप्पू यादव और सांसद रूडी आमने-सामने, सांसद ने कहा-बिना जानकारी के पप्पूजी बोल रहे हैं, यह गलत है

अमनौर के विश्व प्रभा सामुदायिक केन्द्र परिसर में दो दर्जन एम्बुलेंस खड़ी रहने की सूरत में पूर्व सांसद व जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव ने बड़ा सवाल खड़ा किया है। पप्पू यादव एम्बुलेंस के मुद्दे पर खुद ही अमनौर पहुंच गये जहां पर एंबुलेंस लगी है। वहां पहुंचने के बाद एंबुलेंस खड़ी रहने पर दंग रह गये। उन्होंने सवाल खड़ा करते हुए सांसद राजीव प्रताप रूडी व सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि कोरोना काल में जहां एक तरफ एम्बुलेंस की किल्लत से जनता जूझ रही है।

एम्बुलेंस माफिया द्वारा एक किलोमीटर सात हजार रुपये तक वसूली कर रहे हैं। वहीं सांसद फंड (एमपीएलएडीएस) की दर्जनों एम्बुलेंस यहां क्यू खड़ी है? यह जांच का विषय है। इस मामले में सिविल सर्जन पर मुकदमा चलना चाहिए। कहा कि इस परिस्थिति में मैं अपने घर बार छोड़ पीडित लोगों की मदद कर रहा हूं। वहीं सरकार व उसका सिस्टम मर चुकी है। क्यों नहीं सरकार कोरोना की दवाएं को फ्री कर रही है। इतनी संख्या में खड़ी एम्बुलेंस को सेवा में ले रही है। आज पूरा देश व प्रदेश में कोरोना से हालात खराब हो गए हैं। उन्होंने कहा कि हमने सरकार से लगातार मांग कर रहे हैं कि निजी अस्पतालों को सरकार अपने हैंड ओवर करें।

पप्पू यादव अपने काफिले के साथ अमनौर के सामुदायिक केंद्र परिसर में प्रवेश कर चौकीदार और अन्य कर्मियों से भिड़ते हुए कोविड के कारण चालकों की कमी से पंचायतों द्वारा लौटाए गए एम्बुलेंसों जो सुरक्षित रखे गये थे उनको फोटो खिंचवाने के लिए तहस-नहस किया। कार्यकर्ताओं द्वारा इसका विरोध करने और उनसे यह सवाल पूछने कि क्या आपने इस तरह से एक भी एम्बुलेंस चलवाया है तब वे वहां से छोड़कर भागे। इस संदर्भ में स्थानीय सांसद राजीव प्रताप रूडी ने बताया कि कोविड मरीजों की सेवा में लगे एम्बुलेंस सेवा को पप्पू यादव का अपने समर्थकों के साथ बाधित करना और सेवा में लगे कार्यकर्ताओं से भिड़ना अपराध है। पप्पू यादव को यह पता नहीं नहीं है कि सारण में कितने एम्बुलेंस का कितने ग्राम पंचायतों में परिचालन हो रहा है।

उन्होंने कहा कि जिला में 80 एम्बुलेंस हैं जिसमें से वर्तमान में 50 परिचालन में है। कई स्थानों पर पंचायतों के एम्बुलेंस को कोविड से चालकों ने छोड़ दिया था जिसके कारण उसका परिचालन नहीं हो पा रहा था। बावजूद इसके पर्याप्त संख्या में केंद्रीकृत सांसद कंट्रोल रूम से एम्बुलेंस चलवाया जा रहा था। सारण बिहार ही नहीं देश का पहला ऐसा जिला है जहां इतनी संख्या में सांसद निधि के एम्बुलेंस पिछले पांच वर्षों में संचालित किये जा रहे है।

खबरें और भी हैं...