विवाद:मतगणना केंद्र से बाहर ईवीएम का एड्रेस टैग मिलने पर बवाल, थानेदार समेत तीन घायल

छपराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हंगामा कर रहे लोगों के खिलाफ कार्रवाई करती पुलिस। - Dainik Bhaskar
हंगामा कर रहे लोगों के खिलाफ कार्रवाई करती पुलिस।
  • जेपी विवि कैंपस में जुटे कई प्रत्याशियों के समर्थक, रि-काउंटिंग कराने की मांग पर अड़े रहे लोग

सारण में आखिरी चरण के मतगणना में मंगलवार को जोरदार हंगामा हुआ। कई प्रत्याशियों के समर्थक जेपी विवि के कैम्पस में स्थित इंजीनियरिंग कॉलेज कॉउंटिंग सेंटर के बाहर में मौजूद अधिकारी और पुलिस से भिड़ गए। शुरुआत में जीत हार पर सवाल खड़ा किये। कुछ प्रत्याशियों के समर्थक रि-काउंटिंग की जिद पर अड़े थे। फिर देखते ही देखते पुलिस से भिड़ गए। इस बीच समर्थकों को बाहर में इवीएम का एड्रेस टैग पेपर कुछ हाथ लगा। जो काउंटिंग हाल के बाहर मैदान में गिरा हुआ था। समर्थकों ने कहा कि यह इवीएम का सील पेपर है,जो बाहर कैसे आया? इसका मतलब है कि काउंटिंग में गड़बड़ी की जा रही है।

इसी बात को लेकर समर्थक की तरफ से पथराव हो गया। उसके पहले भीड़ जुटने पर पुलिस वहां से लोगों को हटाने के लिए बल प्रयोग कर रही थी। जिससे लोग भड़के थे। करीब 45 मिनट तक बवाल चला। लोग दौड़ने लगे। पथराव के बीच पुलिस के जवान बचाव करने के लिए लाठी चटकाई। पथराव में 3 पुलिस के जवान और दर्जनों लोग चोटिल हुए है। मौके पर पुलिस के अधिकारी पहुँचे। कई थानों की पुलिस को बुलाया गया। काफी मशक्कत के बाद लोग समझ पाए। पथराव में दोनों तरफ से लोग घायल हुए है। एक महिला थानेदार समेत तीन जवान जख्मी है। वहीं दोनों तरफ से नौ से अधिक लोग चोटिल हुए है।

रिकाउंटिंग की मांग को लेकर शुरू हुआ हंगामा
शेरपुर माला गांव स्थित इंजिनियरिंग कालेज मे जारी पंचायत चुनाव काउन्टिंग के दौरान उस वक्त एकाएक अफरा तफरी मच गई जब काउन्टिग हाल के बाहर जमा समर्थकों की भारी भीड़ को पुलिस अचानक खदेड़ने लगी। इस दौरान परिसर के बाहर चुनाव परिणाम की प्रतिक्षा मे शांत यत्र - यत्र बैठे लोग भी बदहवास उठकर भागने लगे। आलम ऐसा कि देखते ही देखते भगदड़ की स्थिति मच गई। जिसके करीब 20 बाद मामला पूरी तरह सामान्य भी हो गया। घटना का कारण दरियापुर प्रखंड के एक जिला परिषद प्रत्याशी के समर्थकों द्वारा हार के बाद पुन: री- काउन्टिंग की मांग बताया जा रहा है। जिसे लेकर समर्थक काउन्टिंग हाल के बाहर जमा हो गए व री- काउन्टिंग कराने की मांग करते हुए गेट से अंदर दाखिल होने का प्रयास करने लगे जिसे पुलिस ने समझा बुझाकर रोकना चाहा किन्तु समर्थक अपनी जिद पर अड़े रहे। जिसके बाद पुलिस ने लोगों को खदेड़ना शुरू किया। इसी पर बवाल हो गया।

लोगों ने कहा-मतगणना में धांधली की जा रही है
छपरा लोकनायक जयप्रकाश नारायण औद्योगिक संस्थान में चल रहे मतगणना पर लोगों ने कई सवाल पर हंगामा किया। मतगणना केंद्र के बाहर दरियापुर का ईवीएम मशीन के सील पेपर का मिलना लोगों ने प्रशासन पर कई सवाल खड़ा कर दी है और जमकर की मतगणना केंद्र के बाहर हंगामा कर दिया। हंगामा के दौरान लोगों ने बताया कि यहां पर मतगणना केंद्र के भीतर काफी संख्या में अधिकारी मौजूद हैं और अपनी मनमानी कर यहां पर मतगणना में धांधली की जा रही है। जिसका जीता जागता प्रमाण आज ईवीएम मशीन का सील पेपर बाहर खेत में फेंका गया मिला है।

चुनावी रंजिश में मारपीट केस का अनुसंधान करने गयी पुलिस पर पथराव
दरियापुर| केस की अनुसंधान करने गई पुलिस के साथ मारपीट की गई। घटना दरियापुर थाना अंतर्गत ढोंगहा की बताई जा रही है। वही इस दौरान ईद पत्थर से मारकर पुलिस अवर निरीक्षक सुधीर कुमार का सिर फोड़ दिया गया। जमीन पर गिरे एसआई को उन पुलिसकर्मियों ने दरियापुर पीएचसी में भर्ती कराया गया। जहां उनका इलाज चल रहा है। वहीं इस मामले में पुलिस ने 6 लोगों को हिरासत में लिया है। एएसआई ने ढोंगहा के सत्येंद्र राम राजूराम सुदामा राय नीरज कुमार इंद्रजीत राय कुंदन कुमार नागेंद्र पासवान समेत 17 लोगों को नामजद अभियुक्त बनाया है।
एसआई गंभीर रूप से जख्मी
पूर्व के केस का अनुसंधान करने गई पुलिस पर ग्रामीण आक्रोशित हो गए। इस दौरान ग्रामीणों ने पुलिस पर पत्थर बरसा कर एसआई को गंभीर रूप से घायल कर दिया। गंभीर रूप से जख्मी एसआई के बयान पर दरियापुर थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई।

^कुछ लोग बाहर में ईवीएम सील पेपर बरामद होने की बात बता रहे हैं,वह गलत है। वह एड्रेस टैग है। जो लोडिंग व अनलोडिंग में गिर सकता है। उससे काउंटिंग में गड़बड़ी का कोई सवाल ही नहीं होता है।
राजू कुमार,जिला उप निर्वाचन पदाधिकारी,पंचायती राज विभाग,छपरा

खबरें और भी हैं...