सतर्कता जरूरी:महाभियान से काेविड टीकाकरण का पाया जाएगा लक्ष्य

छपराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • संक्रमण के किसी भी वेरिएंट से बचाव के लिए वैक्सीन की दोनों डोज लेना अतिआवश्यक

वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण से बचाव तथा निपटने को लेकर स्वास्थ्य विभाग प्रयासरत है। समाज के अंतिम पंक्ति तक के व्यक्तियों को टीका देना का लक्ष्य स्वास्थ्य विभाग ने निर्धारित किया है। टीकाकरण के शत-प्रतिशत लक्ष्य को हासिल करने के लिए कई सकारात्मक प्रयास किये जा रहे हैं। इसी कड़ी में मंगलवार को जिले में कोविड टीकाकरण का महा-अभियान चलाया गया। जिसके तहत टीकाकरण से वंचित लाभार्थियों का टीकाकरण किया गया। महा-अभियान के दौरान स्वास्थ्य कर्मियों ने खेत-खलिहान में काम करने वाले किसानों, ईंट भट्‌टा पर मजदूरों को भी टीका दिया।

टीकाकरण कार्यक्रम को सफल और आसान बनाया गया है। इसके लिए डोर-टू-डोर टीकाकरण शुरू किया गया है। जिसके तहत स्वास्थ्यकर्मी घर-घर दस्तक दे रहे हैं। घर-घर दस्तक टीकाकरण अभियान के तहत टीकाकरण टीम ना सिर्फ लोगों के घरों तक ही दस्तक दे रही है बल्कि, खेतों तक भी पहुंच रही है। ताकि खेती से संबंधित कार्य के लिए खेत में ही रहने वाले किसान और कामगार (मजदूर) भी टीका लेने से छूटे नहीं और ऐसे लोगों का भी सुविधाजनक तरीके से टीकाकरण सुनिश्चित हो सके।

सेकेंड डोज पर वार कर रहा है ‘वार रूम’
कोविड टीकाकरण के सेकेंड डोज के लक्ष्य को शत-प्रतिशत हासिल करने के लिए स्वास्थ्य विभाग सजग है। इसको लेकर तमाम प्रयास किया जा रहा है। प्रखंड स्तर पर वार रूम स्थापित किया गया है। जिसके माध्यम से सेकेंड डोज से वंचित लाभार्थियों को कॉल करके टीका लेने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। कोविन पोर्टल के माध्यम से सेकेंड डोज के ड्यू लिस्ट तैयार किया गया है। जो लाभार्थी किसी कारण से अभी तक सेकेंड डोज का टीका नहीं लिये हैं।

आशा कार्यकर्ता क्षेत्र में कर रही हैं भ्रमण: आशा की भूमिका भी काफी महत्वपूर्ण रही। आशा ने घर-घर जाकर लोगों को टीकाकरण के प्रति प्रेरित किया। जो लोग अभी तक किसी कारण से टीकाकरण से वंचित है वैसे लोगों की सूची तैयार कर रही और नजदीकी टीकाकरण केंद्र पर ले जाकर टीकाकरण सुनिश्चित कर रही है।

टीका लेने से ही कोरोना संक्रमण से बचाव होगा
सिविल सर्जन डॉ. सागर दुलाल सिन्हा ने बताया कि जिले में कोरोना टीका की पहली डोज काफी लोगों ने ले ली है। दूसरी डोज लेने वालों की संख्या भी लगातार बढ़ रही है। अब तो समय पर दूसरी डोज लेने वालों को पुरस्कार भी दिया जा रहा है। समय से कोरोना टीका की दूसरी डोज लीजिए, हो सकता है आप ही इनाम के भागीदार हों। साथ ही टीका लेने से कोरोना से भी आपका बचाव होगा, इसलिए देरी नहीं करें और जल्द से जल्द जाकर कोरोना टीका की दूसरी डोज लें।

खबरें और भी हैं...