पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आस्था:29 दिनों का होगा सावन का महीना, 25 से शुरू

छपरा6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना की वजह से मंदिरों में श्रद्धालुओं को जलाभिषेक करने का अनुमति नहीं

भगवान शिवजी का प्रिय महीना सावन इस साल 29 दिन का ही रहेगा। श्रावण में कृष्ण पक्ष की द्वितीया क्षय और शुक्ल पक्ष की नवमी क्षय है, लेकिन कृष्ण पक्ष में छठ दो हो गई है। ऐसे में कृष्ण पक्ष तो पूरे 15 दिन का होगा, लेकिन शुक्ल पक्ष 14 दिन ही रहेगा। सावन की शुरुआत 25 जुलाई से होगी। ज्योतिषाचार्य हरेराम शास्त्री ने बताया कि सावन में तिथियों की घट-बढ़ के कारण 29 दिन ही सावन रहेगा। कृष्ण पक्ष की द्वितीया क्षय होगी और छठ बढ़ेगी तथा शुक्ल पक्ष में नवमी क्षय होगी। 29 दिन सावन रहेगा। पूरे सावन भक्त शिव की विविध तरीके से आराधना करते हैं। इस महीने का क्षेत्र में विशेष महत्व रहता है। कई धार्मिक आयोजन भी होते हैं। भक्त कावड़ यात्रा लेकर आते हैं। इससे पूरा महीना शिवमय बना रहता है।

कोरोना संक्रमण में गाइडलाइन का इंतजार
कोरोना संक्रमण के चलते प्रशासन ने अभी मंदिरों में आम श्रद्धालुओं को प्रवेश की अनुमति नहीं दी है। आठ अगस्त तक अनुमति नहीं दी गई है। 2020 में प्रशासन ने सावन में मंदिरों में धार्मिक आयोजनों के दौरान भक्तों के प्रवेश पर रोक लगाई थी। लोगों को उम्मीद था कि सावन की शुरुआत तक गाइडलाइन में बदलाव होगा और मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग की पालना के साथ श्रद्धालुओं के लिए मंदिर खुल जाएंगे।

रक्षाबंधन और श्रीकृष्ण जन्माष्टमी मनाएंगे
13 अगस्त को नागपंचमी का पर्व रहेगा। इस दिन भी मंदिरों में पूजा अर्चना की जाती है। वहीं सावन की पूर्णिमा पर 22 अगस्त को रक्षाबंधन का पर्व रहेगा। इसी प्रकार भादाे में 30 अगस्त को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी भी मनाई जाएगी। शहर के मंदिरों पर सावन मास के दौरान विशेष आयोजन किए जाते हैं। हालांकि पिछले साल कोरोना के कारण मंदिरों में आयोजन नहीं हुए थे।

खबरें और भी हैं...