पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अनहोनी:नींव के लिए खोदे गए गड्‌ढे में भरा था पानी खेलने निकले दो बच्चों की डूबने से मौत

छपरा4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
डूबकर मरने के बाद रोते परिजन। - Dainik Bhaskar
डूबकर मरने के बाद रोते परिजन।
  • मढ़ौरा की घटना, घर से कुछ ही दूरी पर खोदे गए गड्‌ढे में बारिश का पानी था जमा

गौरा ओपी क्षेत्र के नरहरपुर चमारी में बुधवार की दोपहर घर से खेलने निकले दो बच्चे की गांव के ही एक गड्‌ढे में डूबने से मौत हो गयी। घटना की जानकारी के बाद गांव में कोहराम मच गया और पीड़ित परिवार के लोग गहरे सदमें में आ गए। मृतक नरहरपुर चमारी निवासी संजीत साह, अमरावती देवी का 9 वर्षीय पुत्र आर्यन कुमार और विनोद राम, रेशमा देवी का 10 वर्षीय पुत्र शिवम कुमार बताया गया है। जानकारी के अनुसार दोनों बच्चे दिन के 1 बजे के करीब घर से खेलने के लिए निकले थे‌। इसी दौरान घर से थोड़ी दूरी पर खेत में स्थित गड्ढे के पास पहुंच गए। जहां फिसलने से एक बच्चा गहरे पानी में चला गया। डूब रहे बच्चे को देख दूसरा बच्चा भी पानी में उतर गया और दोनों पानी में डूब गए। काफी देर तक बच्चों के नहीं दिखने पर घर वालों ने जब खोजबीन शुरु की तो गांव के ही किसी के द्वारा उन्हें खेत के गड्‌ढे की तरफ देखने की बात बताई गयी। संदेह पर जब गड्‌ढे के पानी में तलाश किया गया तो दोनों बच्चों का शव पानी के भीतर से बरामद हुआ।

दोनों पड़ोसी था, एक बच्चा को डूबते देखकर दूसरा भी उतर गया गड्ढे में और दोनों ही डूब गए

घरवाले बच्चों को खोजते हुए दो घंटे बाद गड्ढे के पास पहुंचे तो देखा दोनों का शव उपला रहा है
दोनों घर का छोटा बेटा था, आर्यन और शिवम, पुलिस ने शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा

गड्‌ढे के पास फिसलन होने से बच्चा पानी में गिर गया
मिली जानकारी के अनुसार गांव के एक व्यक्ति ने अपने घर के निर्माण के दौरान नींव भरने के लिए खेत से मिट्टी कटवाया था। इधर बरसात के कारण खेत मेंं बने गड्‌ढे में पानी भर गया था। दोनों बच्चे दोपहर में खेल खेल में गड्ढे की तरफ चले गए थे। ऐसी आशंका व्यक्त की जा रही है कि गड्‌ढे के पास फिसलन से बच्चा पानी में चले गए होगे और डूबने से उनकी मौत हो गयी हो गयी।

एक साल पहले खेत में जेसीबी से गड्‌ढा करवाया गया था
घर के पास ही खेत की तरफ बना गड्‌ढा दो मासूम बच्चे के लिए काल बन गया। गांव वाले बताते है कि पिछली गर्मी में घर बनाने के लिए एक व्यक्ति ने खेत की जमीन में जेसीबी से गड्‌ढा करवाया था। गड्‌ढा अधिक होने के कारण बरसात में छह से सात फीट पानी जमा हो गया था। अगर गड्‌ढा लापरवाह तरीके से नहीं खुदवाया गया होता तो बच्चे की डूबने से मौत नहीं हुई होती।

पुलिस ने शव को कब्जे में लिया
घटना की सूचना के बाद पहुंची गौरा ओपी पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम में भेजने की तैयारी शुरु कर दी थी । इधर बच्चें का शव देखकर दोनों परिवार के सदस्यों का बुरा हाल था । दोनों के परिजन की दहाड़ से गांव के लोग मर्माहत हो रहे थे। जानकारी के अनुसार मृतक आर्यन और शिवम दोनों अपने भाइयों में छोटे थे। दोनों एक उम्र के होने के कारण दोनों में काफी जुड़ाव था । गांव वालों के अनुसार दोनों प्राय: साथ साथ ही रहते थे।​​​​​​​

आर्यन और किशन दोनों अपने भाईयों में थे छोटे
संजीत साह का पुत्र नौ वर्षीय आर्यन कुमार और बिनोद राम का दस वर्षीय पुत्र किशन कुमार अपने अपने भाइयों में छोटे थे। गांव वाले बताते है कि दोनों काफी चंचल थे और गांव के लोगों में भी अपनी चंचलता से प्रिय थे। दोनों बच्चों का शव एक साथ गड्‌ढे से निकलने पर गांव के लोगों में भी रो पड़े। पुलिस ने दोनों शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेजा दिया। ​​​​​​​

खबरें और भी हैं...