बीजेपी नेता के बॉडीगार्ड हत्या मामले में:राजद विधायक समेत अन्य के खिलाफ आरोप गठन की प्रक्रिया कोर्ट में पूरी

छपराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बीजेपी नेता उपेंद्र सिंह के बॉडीगार्ड मुन्ना सिंह की हत्या मामले में मंगलवार को छपरा कोर्ट से आरोप गठन की प्रक्रिया पूरी की गई। एमपी- एमएलए कोर्ट के विशेष न्यायाधीश नलिन कुमार पांडेय ने मशरक में 17 दिसंबर 2011 को ब्लॉक परिसर में बीडीसी बैठक के दौरान बीजेपी नेता उपेंद्र सिंह के बॉडीगार्ड मुन्ना सिंह की हत्या मामले में बनियापुर के राजद विधायक केदारनाथ सिंह के अलावा उनके भाई दीना नाथ सिंह व भतीजा सुधीर कुमार सिंह के खिलाफ आरोप गठन करने का आदेश दिया है।
पेशी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से केंद्रीय कारागार हजारीबाग से कराया गया
सुनवाई के दौरान राजद विधायक व उनके भतीजा कोर्ट में उपस्थित हुए जबकि दीनानाथ सिंह की पेशी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से केंद्रीय कारागार हजारीबाग से कराया गया। वहीं बॉडीगार्ड हत्याकांड मामले में ही तत्कालीन प्रखंड प्रमुख लालती देवी के आवेदन पर दर्ज प्राथमिकी मामले में भी बीजेपी नेता उपेंद्र सिंह व महेश्वर सिंह के खिलाफ आरोप गठन की प्रक्रिया एमपी एमएलए कोर्ट में ही की गई। बीजेपी नेता उपेंद्र सिंह व महेश्वर सिंह भी कोर्ट में उपस्थित हुए। चार्ज फ्रेम की कार्रवाई पूरी होने के बाद अब अभियोजन पक्ष की तरफ से गवाही की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।चार्ज फ्रेम को लेकर छपरा कोर्ट परिसर में सुबह से ही गहमागहमी थी। हाई प्रोफाइल मामले को लेकर अधिवक्ताओं में भी तरह-तरह की चर्चा थी। अभियोजन पक्ष की तरफ से कोर्ट में एपीपी अखिलेश सिंह व बचाव पक्ष की तरफ से पुंडरीक बिहारी सहाय, नीरज श्रीवास्तव ,दीपक सिन्हा ने पक्ष रखा।

खबरें और भी हैं...