जागरुकता:एकंबा में कलाकारों ने नुक्कड़ नाटक किया

छौड़ाही19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बिहार सरकार के पीएचईडी विभाग द्वारा ग्रामीण इलाकों में चलाए जा रहे जल जीवन हरियाली की महत्ता से लोगों को जागरूक करने के लिए गुरुवार को एकंबा पंचायत के वार्ड 7 निवासी एपी लैला बिहारी के दरवाजे पर कला जत्था द्वारा नुक्कड़ नाटक का आयोजन किया गया।

कला जत्था के निदेशक गजेंद्र प्रसाद यादव ने नुक्कड़ नाटक के माध्यम से जल जीवन हरियाली पर प्रस्तुति देते हुए कहा कि यह कार्यक्रम सरकार की दूरगामी सोच है। जल और हरियाली के बीच जीवन है और जब तक पृथ्वी पर जल और हरियाली रहेगी तभी तक पृथ्वी पर जीवन रहेगा।

सामाजिक कार्यकर्ता एपी लैला बिहारी ने कहा कि सरकार ने हर घर नल का जल उपलब्ध करा दिया है जो पीने योग्य शुद्ध जल है। जिसको हमसब को मवेशी को नहलाने, खेत पटाने, मोटर गाड़ी धोने में बर्बाद करने से रोकना होगा।

माैके पर ये लाेग थे माैजूद |इस अवसर पर रामविलास सहनी, प्रमोद साह, पवन दास, राजेश पेंटर, शत्रुघन सहनी, विद्यालय के शिक्षा समिति सचिव संजू देवी, आंगनवाड़ी सेविका रीता कुमारी, पूर्व सरपंच रीता रानी समेत सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

नल का जल बर्बाद नहीं करने का संकल्प दिलाया गया
उपसरपंच सिकंदर दास का कहना हुआ कि जगह-जगह नल से लीकेज की वजह से जल का प्रवाह हमेशा होता रहता है। जिससे गली में जगह-जगह पानी जमा होने से लोगों को आवाजाही में परेशानी परेशानी झेलनी पड़ती है। लोगों को सरकार के भरोसे नहीं रहना चाहिए जब नल अपना है तो हम अपने नल का सुरक्षा खुद भी कर सकते हैं। नुक्कड़ नाटक में लोगों को नल का जल बर्बाद नहीं करने का संकल्प दिलाया गया और साथ ही सरकार के टोल फ्री नंबर पर नल संबंधित समस्या को दुरुस्त करने के लिए भी आग्रह किया गया।

खबरें और भी हैं...