पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

न्याय की गुहार लगायी:दो लाख नहीं देने पर ससुराल वालों ने 6 माह की गर्भवती को घर से निकाला

छौड़ाही23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

अमारी पंचायत के वनपतला गांव में दहेज लोभियों ने 2 लाख की मांग पूरी नहीं करने पर दो साल की बच्ची व उसकी 6 माह की गर्भवती मां को मारपीट कर घर से भगा दिया। सामाजिक हस्तक्षेप के बावजूद ससुराल पक्ष के लोगों ने बात नहीं मानी। फिर थक हारकर पीड़िता न्याय की गुहार लेकर अपने माता-पिता के साथ पुलिस के शरण में पहुंची और लिखित आवेदन देकर न्याय की गुहार लगायी।

पुलिस को दिए आवेदन में वनपतला निवासी पूजा कुमारी ने बताया कि थाना क्षेत्र के मिल्की निवासी हमारे पिता भोला महतो ने लगभग तीन वर्ष पूर्व वनपतला गांव के श्याम सुंदर महतो के पुत्र रौशन कुमार के साथ हिन्दु रीति-रिवाज के मुताबिक शादी की। निर्धन होने के बावजूद मेरे माता पिता ने करीब 1 लाख का घरेलू सामान, 1 लाख 51 हजार नगद, 5 भर सोना एवं हीरो मोटरसाइकिल उपहार स्वरूप दिया जिसे लेकर हम अपने पति के साथ ससुराल आयी। जहां एक वर्ष बीतने के बाद एक पुत्री हुई।

पुत्री होने के बाद मेरे पति रौशन कुमार, ससुर श्याम सुन्दर महतो, सास मुन्नी देवी, ननद निशा कुमारी, खुश्बू कुमारी, गायत्री कुमारी, देवर अंजेश कुमार, फुआ रामकली देवी व फुफा रामविलास महतो फिर 2 लाख रूपये मां पिता से मांगने को लेकर प्रताड़ित करने लगे। पीड़िता ने बताया कि ससुराल पक्ष के लोग धमकी देने लगे कि अगर मां बाप से रूपया मांगकर नहीं लायी तो हमसब मिलकर अधिक दान दहेज देने वाले से रौशन की पुन: शादी कर देगे।

खबरें और भी हैं...